बिहार विधानसभा में महिला MLC के साथ छेड़छाड़ मामले में BJP ने आरोपी एमएलसी को पार्टी से किया निलंबित

0
2

भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) ने अपनी ही पार्टी के एक विधायक की पत्नी और बिहार विधान परिषद सदस्या के साथ छेडछाड का आरोप लगने पर आरोपी विधान पार्षद(एमएलसी) लालबाबू प्रसाद को भाजपा की प्राथमिकता सदस्यता से निलंबित कर दिया है। साथ ही सभापति अवधेश नारायण सिंह ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए मामले को जांच के लिए सदन की आचार समिति को सौंप दिया है।

BJP MLC

बिहार विधान परिषद की शुक्रवार(30 मार्च) को कार्यवाही शुरू होने के पूर्व प्रतिपक्ष के नेता व बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट के जरिए बताया कि लालबाबू को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि इस मामले में पार्टी ने लालबाबू को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

पूर्व में पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष रहे लालबाबू को भाजपा द्वारा कल देर शाम जारी अपनी प्रदेश कार्यसमिति में भी स्थान नहीं दिया गया था। बिहार विधान परिषद की शुक्रवार की कार्यवाही शुरू होने पर सभापति ने कहा कि गत 30 मार्च को सदन के सदस्य लालबाबू प्रसाद के आचरण के संबंध में सदस्या रीना देवी और अन्य कई सदस्यों ने आसन का ध्यान आकृष्ट किया था।

इस प्रकरण को लेकर मैं अत्यंत मर्माहत हुआ एवं स्वत: संग्यान लिया। सम्यक विचारोपरांत इस मामले को सदन की आचार समिति को जांच के लिए सौंपता हूं। उन्होंने कहा कि समिति अपनी जांच और निर्णय से सदन को प्रतिवेदित करेगी। साथ ही लालबाबू प्रसाद को परिषद की पर्यावरण एवं प्रदूषण नियंत्रण समिति के अध्यक्ष पद से बर्खास्त करता हूं।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, मीडिया में गत 30 मार्च को आई रिपोर्ट के अनुसार भाजपा विधायक नीरज कुमार सिंह बब्लू की पत्नी और बिहार विधान परिषद में लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सदस्या नूतन सिंह के साथ परिषद परिसर में भाजपा सदस्य लालबाबू प्रसाद ने कथित तौर पर छेड़छाड़ की। छेडछाड किए जाने की शिकायत किए जाने पर नीरज ने गत 29 मार्च को परिषद परिसर में ही लालबाबू की जमकर पिटाई कर दी थी।

मामला सामने आने के बाद पत्रकारों से बातचीत में तेजस्वी यादव ने कहा कि बुधवार का दिन बिहार विधानमंडल के इतिहास में एक काले दिन के रूप में दर्ज हो गया। उन्होंने कहा कि बीजेपी के एक विधान पार्षद व उपाध्यक्ष लाल बाबू प्रसाद ने बीजेपी के विधायक की पत्नी और उन्हीं के घटक दल की महिला विधान पार्षद के साथ सरेआम छेड़खानी की।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मांग करते हैं कि सुशील मोदी पर कार्रवाई करें जो आरोपित को बचाने का काम कर रहे हैं। इस घटना को सभी लोगों ने देखा है। मार्शल ने भी देखा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here