कांग्रेस ने राहुल गांधी की शेयर की ऐसी तस्वीरें जिसे BJP भी रीट्वीट किए बिना नहीं रह सकी, जानें क्या है पूरा मामला

0

एक तरफ जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के जर्मनी में दिए गए भाषण पर राजनीतिक घमासान मचा हुआ है, वहीं दूसरी तरफ उनकी एक ऐसी तस्वीर सामने आईं है उनकी तस्वीरों पर उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। इतना ही नहीं कांग्रेस के आधिकारिक हैंडल से राहुल गांधी की शेयर की गई इस तस्वीर को शाम होते-होते भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने भी रीट्वीट कर दिया।

दरअसल, कांग्रेस ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से जर्मन संसद में विभिन्न मुद्राओं में खड़े राहुल गांधी की तस्वीरों का एक कोलाज शेयर किया गया। देखते ही देखते यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इतना ही नहीं कांग्रेस की मुख्य प्रतिद्वंद्वी बीजेपी ने भी राहुल गांधी के इस तस्वीर को रिट्वीट करते हुए लिखा कि वह भी ऐसा करने से खुद को रोक नहीं पाई।

कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से बंडेस्टैग (जर्मन संसद) में खड़े राहुल गांधी की चार तस्वीरों का एक कोलाज पोस्ट करते हुए लिखा था, “राहुल गांधी के विभिन्न पहलु।” बीजेपी ने कुछ घंटों बाद इस तस्वीर को रिट्वीट करते हुए चुटकी ली और लिखा, ‘यहां तक कि हम भी रिट्वीट करने से खुद को नहीं रोक सके।’

सोशल मीडिया यूजर्स ने राहुल गांधी के इस तस्वीर को लेकर कांग्रेस को ट्रोल किया, जिसके बाद बीजेपी ने इसे रिट्वीट कर आग में घी डालने का काम कर दिया। हालांकि कुछ लोगों ने कांग्रेस द्वारा पोस्ट की गई राहुल गांधी की इस तस्वीर को पसंद भी किया है, लेकिन ट्रोल करने वालो के मुकाबले पसंद करने वालों की संख्या कम है।

बीजेपी के इस रीट्वीट के बाद में कांग्रेस ने राहुल गांधी की जर्मन संसद में कुछ और तस्वीरों को शेयर किया। राहुल की तस्वीरों को लेकर मीम बनने लगे हैं और उनके बारे में मजाकिया कॉमेंट आने शुरू हो गए हैं। एक तस्वीर में राहुल गांधी को कुर्ते पजामे में अलग-अलग मूड में दिखाया गया, जबकि एक तस्वीर में राहुल को जर्मनी के सांसदों के आर्काइव गैलरी से गुजरते दिखाया गया है।

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी विदेश दौरे पर हैं। बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष ने जर्मनी के हैम्बर्ग स्थित बुसेरियर समर स्कूल में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा था। जिसके बाद सत्ताधारी बीजेपी ने भी राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए उनके बयान की आलोचना की थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here