जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की सरकार गिरने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आई बीजेपी

0

मंगलवार (19 जून) को जम्मू-कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने पीडीपी के साथ गठबंधन खत्म कर लिया है। बीजेपी के सरकार से समर्थन वापस लेने के तुरंत बाद ही राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने राज्यपाल एनएन वोहरा को अपना इस्तीफा सौंप दिया। जम्मू-कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी का गठबंधन ठूठने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स बीजेपी पर जमकर हमला बोले रहें है।

जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के साथ चल रही गठबंधन सरकार से बीजेपी के वरिष्ठ नेता राम माधव ने मंगलवार (19 जून) को समर्थन वापस लेने का ऐलान किया है। बीजेपी ने कहा कि हम जो कश्मीर में करना चाहते थे, वो नहीं कर पा रहे हैं इसलिए हमने समर्थन वापस लेने का फैसला लिया है।

जम्मू कश्मीर के लिए बीजेपी के प्रभारी राममाधव ने महबूबा सरकार से समर्थन वापस लेने की वजह बताते हुए कहा, ‘हमने तीन साल पहले जो सरकार बनाई थी, जिन उद्देश्यों को लेकर बनाई थी, उनकी पूर्ति की दिशा में हम कितने सफल हो पा रहे हैं, उस पर विस्तृत चर्चा हुई।’ बता दें कि, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को ही दिल्ली में राज्य के सभी बड़े पार्टी नेताओं के साथ बैठक की, जिसके बाद बीजेपी ने समर्थन वापस लेने का फैसला किया है।

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी-पीडीपी का गठबंधन ठूठने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स बीजेपी पर जमकर हमला बोले रहें है। एक यूजर्स ने लिखा, “फकीर ने कश्मीर के धूने को 4 साल तक खूब सुलगाया, जब आँच ज्यादा हो गयी तो झोला उठा लिया।”

वहीं एक अन्य यूजर्स ने लिखा, “आने वाले 2019 के चुनाव को देखते हुए और देश के अंदर भाजपा की आने वाली तबाही को अभी से महसूस करते हुए भाजपा मैं जम्मू कश्मीर के अंदर महबूबा मुफ्ती से नाता तोड़कर समर्थन वापस ले लिया है। यह सिर्फ और सिर्फ कश्मीर की नाकामी छुपाने के लिए उठाया गया कदम है।”

वहीं एक अन्य यूजर्स ने लिखा, “जम्मू कश्मीर देश का मस्तक है, देश को बड़ी उम्मीद थी कि प्रधानमंत्री मोदी जी वहां की समस्याओं को और आतंकवाद को खत्म करेंगे पर यह तो भगोड़ी पार्टी निकली।”

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट :

https://twitter.com/cutepoojaag1/status/1009016464869765120

https://twitter.com/RoflRavish/status/1008999156390727680

https://twitter.com/__Reshma/status/1008999834571771909

https://twitter.com/PPandit_/status/1008996707181395968

बता दें कि, जम्मू कश्मीर विधानसभा में कुल 87 सीटें हैं, जहां बहुमत के लिए 44 सीटों की जरूरत है। मौजूदा विधानसभा में बीजेपी के पास फिलहाल 25 विधायक हैं और महबूबा मुफ्ती की पीडीपी के पास 28 विधायक हैं। वहीं उमर अब्दुल्ला की नेशनल कॉन्फ्रेंस के पास 15 और कांग्रेस के पास 12 विधायक हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here