“अगर काले झंडे ही दिखाने थे तो कहीं और मर लेते”: किसानों द्वारा अपना विरोध होने पर भड़के BJP सांसद रतन लाल कटारिया के बिगड़े बोल

0

किसानों द्वारा अपना विरोध होने पर भड़के हरियाणा के अंबाला से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद रतन लाल कटारिया ने किसानों को लेकर विवादित बयान दिया है। किसानों के विरोध से गुस्साए रतन लाल कटारिया ने कहा कि अगर किसानों को विरोध ही करना था, काले झंडे ही दिखाने थे तो वे कहीं और मर लेते उनके इस बयान को लेकर कांग्रेस ने भी भाजपा पर निशाना साधा है।

रतन लाल कटारिया

दरअसल, रतन लाल कटारिया के अंबाला पहुंचने पर किसान संगठन के लोग ने काले झंडे दिखाकर उनका विरोध किया। इस दौरान मोदी सरकार और कटारिया के खिलाफ किसानों ने जमकर नारेबाजी की। कटारिया ने कहा कि उनके अंबाला में 7-8 कार्यक्रम हैं। ऐसे में अगर किसानों को उनका विरोध ही करना था तो कहीं और मर लेते।

किसानों द्वारा अपना विरोध होने पर कटारिया ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, “यहां मेरे पीछे नारेबाजी हो रही है, काले झंडे दिखाएं जा रहे हैं। अरे भले मानुषों, किसी और की नहीं सोचनी अपने अंबाला के विकास के बारे में तो सोच लों। जो चीजें पिछले 60-70 सालों में नहीं हो पाया, आज वो हो रहा है। तुम्हें अगर काले झंडे ही दिखाने थे तो कहीं और मर-कर लेते। आज उनके अंबाला में 7-8 कार्यक्रम हैं।”

रतन लाल कटारिया के इस बयान का वीडियो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। उनके इस बयान को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

 

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने ट्वीट कर कहा, “भाजपा सांसद का अहंकार, किसानों के लिये विवादास्पद टिप्पणी; अंबाला से भाजपा सांसद रतन लाल कटारिया ने आंदोलन कर रहे किसानों का अपमान करते हुए कहा कि “कहीं और मर लेते”। मोदी जी, याद रखना! हंकार किसी का नहीं टिकता, किसान “बोना” भी जानता है, और “काटना” भी..!”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here