अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द जोड़ ट्रोल हुईं बीजेपी सांसद किरण खेर

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में ट्विटर पर ‘मैं भी चौकीदार’ अभियान चलाया है। साथ ही पीएम मोदी ने रविवार को ट्विटर पर भी अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द जोड़ लिया है। ट्विटर पर अब उनका नाम ‘चौकीदार नरेंद्र मोदी’ हो गया है। पीएम मोदी के अलावा कई केंद्रीय मंत्रियों और तमाम बीजेपी नेताओं औक समर्थकों ने भी अपने-अपने हैंडल में ‘चौकीदार’ शब्द को जोड़ लिया है।

इस क्रम में चंडीगढ़ से बीजेपी सांसद और अभिनेता अनुपम खेर की पत्नी किरण खेर ने भी खुद को ‘चौकीदार’ बताते हुए अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द जोड़ लिया, किरण खेर का ये ट्वीट खूब वायरल हो रहा है। हांलाकी, अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द लगाने को लेकर किरण खेर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई और लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया।

किरण खेर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में ट्विटर पर ‘मैं भी चौकीदार’ अभियान चलाया है। साथ ही पीएम मोदी ने रविवार को ट्विटर पर भी अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द जोड़ लिया है। पीएम मोदी से जुड़ी ‘मैं भी चौकीदार’ मुहिम से जुड़ते हुए किरण खेर ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो पोस्ट किया है और लिखा है, ‘मैं मां हूं, बहन हूं, प्यार हूं। पर राक्षसों के वध के लिए, शेर पर सवार हूं। मैं भी चौकीदार हूं।’

किरण खेर का ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। हांलाकी, अपने नाम के आगे ‘चौकीदार’ शब्द लगाने को लेकर किरण खेर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई और लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया।

एक यूजर ने किरण खेर पर निशाना साधते हुए लिखा, “यह चंडीगढ़ की वही चौकीदार है जो बलात्कार पीड़िता को कहती हैं कि लड़कियों को अपना ध्यान खुद रखना चाहिए, उस के साथ जो हुआ उसकी वह खुद जिम्मेदार है। और आज ये अपनी तुलना दुर्गा से कर रही है।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “किरण खेर जी आप एक सेलिब्रिटी है कम से कम आप तो अपने को इस झूठे मुहीम से अलग रखे!!”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “आप चंडीगढ़ की MP भी हैं mam… 5 साल में अगर कोई एक ईंट लगवा देते, कोई भी एक काम करवा देते, कोई एक रोड, कोई एक फ्लाईओवर, कोई एक अंडरपास… कुछ भी एक काम करवा देते तो आज चौकीदार नहीं बनना पड़ता।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “ये देखिए चुनाव आते ही ये महिलाओं की हमदर्द बन गयी और आज तक जब महिलाओं पर लाठियाँ बरसाई जा रही थी तो आप कहाँ थी बंद कीजिए ये ढोंग अब जनता आप को जबाब देने के लिए तैयार है।” बता दें कि इसी तरह तमाम सोशल मीडिया यूजर्स इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहें है।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

बता दें कि चंडीगढ़ गैंगरेप मामले पर किरण खेर ने पीड़िता को नसीहत देते हुए विवादित बयान दिया था। एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान उन्होंने कहा था कि बच्ची की समझदारी को भी मैं थोड़ा सा कहना चाहती हूं, सारी बच्चियों को, कि ऑलरेडी (पहले से ही) जब कोई तीन आदमी बैठे हुए हैं उसके अंदर तो आपको उसमें बैठना नहीं चाहिए था, मैं यह लड़कियों की सुरक्षा के लिए कह रही हूं।’

बीजेपी सांसद ने आगे कहा कि ‘हम लोग जब मुंबई में टैक्सी में बैठते थे, अगर हमें कोई छोड़ने आता था तो हम उसे टैक्सी का नंबर लिखा देते थे।’ उन्होंने कहा कि अब तो मोबाइल फोन हैं, लड़कियों को ऑटो पकड़ते समय उसका नंबर नोट करके घर वालों को मैसेज कर देना चाहिए। इससे ऑटो वालों के मन में भय रहेगा।

हालांकि बयान पर विवाद बढ़ने के बाद किरण खेर ने सफाई देते हुए कहा था कि मैंने तो यह कहा था कि जमाना बहुत खराब है, बच्चियों को एहतियात बरतना चाहिए। चंडीगढ़ पुलिस पीसीआर भेजती है अगर कोई लड़की रात में 100 नंबर पर फोन करती है तो। इसमें राजनीति को शामिल नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि लानत है उनपर जिन्होंने इसका राजनीति करने की कोशिश की है। आपके घर में भी बच्चियां हैं। आपको भी मेरी तरह रचनात्मक बता करनी चाहिए, विनाशकारी नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here