VIDEO: देवरिया शेल्टर होम मामले पर बीजेपी सांसद हेमा मालिनी का अजीबो गरीब बयान, बोलीं- अब क्या करें!

0

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में भी शेल्टर होम (मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह) में बिहार के मुजफ्फरपुर जैसा मामला सामने आने के बाद सरकार से लेकर प्रशासनिक अमले तक के होश उड़ गए हैं। मामला सामने आने के बाद यूपी सरकार ने देवरिया में नारी संरक्षण गृह में चल रहे सेक्स रैकेट मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की है।

इसी बीच, देवरिया के शेल्टर होम मामले पर मथुरा से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सांसद और मशहूर अभिनेत्री हेमा मालिनी ने हैरान करने वाला बयान दिया है।

हेमा मालिनी
फाइल फोटो- हेमा मालिनी

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार (7 अगस्त) को पत्रकारों से बातचीत के दौरान बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने कहा कि यह घटना दुख है। लेकिन अब क्या करें! हालांकि, उन्होंने इस मामले पर और कोई टिप्पणी नहीं की ओर सीधा अपनी कार में बेठ गई।

बता दें कि अभी हाल ही में बीजेपी सांसद हेमा मालिनी ने एक ऐसा बयान दिया था, जिससे वो सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई थी। दरअसल, हाल ही में उन्होंने कहा था कि वो अगर चाहें तो एक मिनट में मुख्यमंत्री बन सकती हैं। मालिनी ने गुरुवार (26 जुलाई) को राजस्थान के बांसवाड़ा शहर में ये बयान दिया। उन्होंने कहा कि वह जब चाहें, तब मुख्यमंत्री बन सकती हैं, लेकिन उन्हें इसकी इच्छा नहीं है, क्योंकि वे बंधना नहीं चाहतीं।

बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार (7 अगस्त) को कहा, ‘देवरिया की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी गंभीरता को देखते हुए दोपहर में बैठक की थी… बालिकाओं के बयान और अन्य स्थितियों को देखते हुए मामले की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए ही इसे सीबीआई को भेजने का निर्णय किया गया है।’ उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने स्तर से एसआईटी का गठन किया है, जो इस पूरे प्रकरण की जांच करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बाल कल्याण समिति ने अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन नहीं किया, इसलिए उसे निलंबित करने का फैसला किया जा रहा है। बता दें कि देवरिया स्थित मां विंध्यवासिनी महिला एवं बालिका संरक्षण गृह की मान्यता स्थगित होने के बाद भी संरक्षण गृह को हाईकोर्ट से स्थगनादेश लेकर चलाया जा रहा था। रविवार (5 अगस्त) की रात इस संस्था से सेक्स रैकेट संचालित होने का खुलासा हुआ, जिसके बाद शासन गंभीर हो गया।

इस बीच महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने यह बात स्वीकार की है कि शेल्टर होम में लड़कियों का शारीरिक शोषण होता था। उच्च स्तरीय जांच कमिटी की रिपोर्ट के बाद मंत्री ने मीडिया से बातचीत में यह बात स्वीकार की है कि शेल्टर होम में लड़कियों के साथ शारीरिक शोषण की बात से इनकार नहीं किया जा सकता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here