VIDEO: संसद में ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाने पर लोकसभा अध्यक्ष ने BJP सांसद को दी नसीहत, बोले- ‘ये सदन है, नारेबाजी ठीक नहीं’

0

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नवनिर्वाचित सांसद हंसराज हंस ने बुधवार को लोकसभा में शायराना अंदाज में अपनी बातें रखीं। उत्तर पश्चिम दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद और सूफी गायक हंसराज हंस ने लोकसभा में कविता सुनाई। हंस ने सदन के सामने कविता सुनाई और कहा, ‘जिंदगी दी है तो जीने का हुनर भी देना, पांव बख्से हैं तो तौफीके सफर भी देना। गुफ्तगूं तूने सिखाई है कि मैं गूंगा था, अब मैं बोलूंगा तो बातों में असर भी देना, मेरे उलझे हुए ख्बावों को तराजू दे दे, मेरे भगवन मुझे जज्बात पर काबू दे दे, मैं समुंदर भी किसी गैर के हाथों से ना लूं और एक कतरा भी समुंदर है अगर तू दे दे।’

लोकसभा में शून्यकाल के दौरान हंसराज हंस ने पहली बार सदन में अपनी बात रखी। उन्होंने सूफीवाद, पंजाब एवं दिल्ली में नौजवानों के नशे की गिरफ्त में आने और सफाईकर्मियों की स्थिति का उल्लेख करते हुए कहा कि पूरा सदन इस पर ध्यान दे। उन्होंने कहा कि पंजाब गुरुनानक देव और कई बड़े सूफी संतों की धरती रही है, लेकिन पहले आतंकवाद और अब नशा इसे नुकसान पहुंचा रहा है।

हंस ने कहा, ‘मेरा जन्म पंजाब में हुआ लेकिन अब वहां किसी की नजर लग गई, वो धरती हम बचा नहीं सके, वो पानी हम बचा नहीं सके। जवानी हम ना बचा सके।’ बता दें कि भाजपा सांसद हंसराज हंस ने बुधवार को लोकसभा में शायराना अंदाज में अपनी बात रखते हुए नौजवानों के नशे की चपेट में आने और सीवर में काम करते हुए सफाईकर्मियों की मौत के मुद्दे उठाए जिस पर कांग्रेस के शीर्ष नेताओं सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने भी मेजें थपथपाईं।

उत्तर पश्चिम दिल्ली से निर्वाचित हुए हंसराज ने कहा कि दिल्ली में नौजवान नशे की चपेट में आ रहे हैं और यह सबकी जिम्मेदारी है कि नौजवानों की जिंदगी बचाएं। उन्होंने कहा कि सीवर में सफाईकर्मियों की मौत हो जाती है और उन पर कोई ध्यान नहीं देता, लेकिन पहली बार हमारे ‘महबूब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गरीबों की फिक्र की है। हंसराज ने सूफीवाद का जिक्र करते हुए शायराना अंदाज में कहा कि एक दिन सबको दुनिया से जाना है और जाति, धर्म और धन सबकुछ यहीं छूट जाएगा।

‘भारत माता की जय’ के लगाए नारे

इस दौरान आखिर में जब भाजपा सांसद ने सदन में ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाया तो लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने उन्हें नसीहत देते हुए कहा कि माननीय सदस्य ये सदन है, अपनी बात कहें, नारेबाजी ठीक नहीं है। लोकसभा अध्यक्ष ने सभी नए सदस्यों से गुजारिश करते हुए कहा कि सदन में इस तरह से सदन में नारेबाजी करना ठीक नहीं है।

दरअसल, अपना भाषण खत्म करने पर हंसराज हंस ने ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाया जिस पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि आप नए सदस्य हैं, लेकिन इस तरह से सदन में नारे नहीं लगा सकते। हंसराज का भाषण खत्म होने पर सत्तापक्ष के सदस्यों के साथ ही सोनिया गांधी और राहुल गांधी सहित विपक्षी सदस्यों ने भी मेजें थपथपाईं।

बता दें कि लोकसभा में नवनिर्वाचित स्पीकर ओम बिरला अब तक सुचारू ढंग से सदन को चलाने में सफल रहे हैं। चर्चा के दौरान गतिरोध पैदा करने वाले सांसदों को स्पीकर कई बार फटकार लगा चुके हैं। अभी हाल ही में स्पीकर ने केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक को चर्चा के दौरान नसीहत दे डाली और आसन के अधिकार भी उनके याद करा दिए थे। सोशल मीडिया पर यह वीडियो जमकर वायरल हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here