BJP सांसद ने जानवर से की नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी की तुलना, वायरल हुआ फेसबुक पोस्ट

0

गुजरात के बनासकांठा जिले की वडगाम सीट से निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर विधायक चुने गए दलित नेता जिग्नेश मेवाणी के खिलाफ मध्य प्रदेश के उज्जैन से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद चिंतामणि मालवीय ने विवादित पोस्ट लिखी है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहीं है।

जिग्नेश मेवाणी
(फोटोः फेसबुक)- बीजेपी सांसद चिंतामणि मालवीय और पीएम मोदी

बता दें कि, बीजेपी सांसद डा. चिंतामणि मालवीय की यह पोस्ट जिग्नेश मेवाणी के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी को अब रिटायर हो जाना चाहिए और उन्हें हिमालय पर चला जाना चाहिए। इसी पर अपनी प्रतिक्रिया वयक्त करते हुए बीजेपी सांसद ने जिग्नेश मेवाणी की तुलना जानवरों से कर दी।

इतना ही नहीं जिग्नेश के बहाने बीजेपी सांसद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर भी हमला बोला है। उन्होंने लिखा, पैसे देकर राहुल गांधी ने तीन गंदगी खाने और फैलाने वाले जानवर खरीद लिए पर इनमें संस्कार कहां से लाएंगे? पोस्ट से साफ है कि उनके निशाने पर राहुल-जिग्नेश के अलावा अल्पेश ठाकोर और हार्दिक पटेल भी थे।

बीजेपी सांसद ने अपनी फेसबुक पोस्ट में नवनिर्वाचित विधायक जिग्नेश मेवाणी पर निशाना साधते हुए भाषा की मर्यादा को भी लांघ दिया है।

बीजेपी सांसद चिंतामणि मालवीय ने फेसबुक पर लिखा, ‘पैसे देकर राहुल ने 3 गन्दगी खाने और फैलाने वाले जानवर खरीद लिए पर इनमे संस्कार कहा से लाएंगे’ जिग्नेश तुम खुद नीरस हो गए हो अपने आप से ओर आपकी गन्दी राजनीति से आप खुद बोर हो गए हो इसलिए आपको दुनिया बोरिंग लग रही है।

तुम जैसे लोगो ने देश के लिए किया ही क्या है केवल तुच्छ जातिवादी राजनीति? क्या किया तुमने दलितों के लिए? कुछ नही केवल खुद की रोटी सेकने के लिए तुमने उन्हें हथियार बनाया। तुम अनुसूचित जाति के नाम पर समाज को बांटने की कम्युनिष्टों के कुत्सित काम में मदद कर रहे हो।

अगर तुम सही में अनु जाति के हो तो तुम पर कम्युनिष्टों का नही भारत रत्न डॉ बाबा साहेब अंबेडकर का प्रभाव होता। मोदी जी से तो तुम लोगो की तुलना भी नही की जा सकती है क्योकि सूर्य से काकरोचों की तुलना नही की जा सकती है।

हड्डी गलाने वाले बयान पर मालवीय ने लिखा कि, क्या प्रधानमंत्री मनोरंजन के लिए चुना जाता है? भारत के गौरव को आप हिमालय पर हड्डी गलाने की राय दे रहे है? क्या यही राय आपने अपने माता पिता को भी दी होगी? कहि उनकी हड्डिया गला तो नही दी तुमने?

क्या यही राय तुमने राहुल गांधी को तो नही दे दी? क्या वो सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह को हड्डी गलने के लिए हिमालय तो नही छोड़ आये? लगता है राहुल गांधी के इशारे पर यह बयान दिया गया है, फिर उनके कहने से माफी मांग कर नया नाटक किया जाएगा।

मालवीय ने आगे लिखा कि, क्या आप जवान उसे ही मानते है जिसकी आपके नेताओ की तरह सीडी लांच हो? सुबह 4 बजे से लेकर देररात तक लगातार भारत माता की सेवा करने वाले दुनिया के सबसे लोकप्रिय जननायक श्री नरेन्द्र मोदी जी को सुनने के लिए देश दुनिया मे लोग हरपल तत्पर रहते है।

दुनिया भर में भारत की गौरव पताका फहराने वाले मोदी जी के मन की बात कार्यक्रम के कारण आकाशवाणी की कमाई बड़ी है। ऐसे अनेको उदाहरण है जो देश का जनमानस जानता है। पर तुम जैसे मंदबुद्धि गैंग के व्यक्ति को कोई बात समझ नही आ सकती?

दरअसल गुजरात में विधायक बनने के बाद जिग्नेश ने पीएम मोदी को रिटायरमेंट लेने की सलाह दी थी। मेवाणी ने कहा था कि, ‘चुनाव में भले ही बीजेपी जीती हो, लेकिन हमारी नैतिक जीत हुई है। मोदी जी को हिमालय पर चले जाना चाहिए और वहां जाकर हड्डियां गलाना चाहिए।’

बता दें कि, जिग्नेश ने गुजरात के वडगाम सीट से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रत्याशी चक्रवर्ती विजय कुमार हरखाभाई को हराया है। जिग्नेश ने बीजेपी प्रत्याशी को करीब 18 हजार से ज्यादा वोटों से हराया। बता दें कि, दलित नेता जिग्नेश मेवाणी गुजरात चुनाव के महत्वूपर्ण उम्मीदवारों में से एक थे। जिग्नेश मेवाणी गुजरात में दलितों और मुसलमानों के बीच तेजी से लोकप्रिय हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here