VIDEO: BJP सांसद बोले, राहुल बजाज की चीनी मिलों पर किसानों का 10 हजार करोड़ बकाया, डर तो लगेगा ही

0

मशहूर उद्योगपति राहुल बजाज पिछले दिनों सरकार की आलोचना करने की वजह से सुर्खियों में बने हुए है। मुंबई में बीते दिनों एक कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के सामने उद्योगपति राहुल बजाज ने सरकार की आलोचना करते हुए डरने की बात कही तो देश में बहस छिड़ गई। इस बहाने विपक्ष भी मोदी सरकार पर हमलावर है।

इस बीच, उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से भाजपा सांसद अजय मिश्रा (टेनी) ने लोकसभा में बजाज ग्रुप की चीनी मिलों पर 10 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा बकाया होने की बात कहते हुए कहा कि ‘जब कार्रवाई होगी तो डर लगना स्वाभाविक है।’ भाजपा सांसद का यह बयान अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दो दिसंबर को लोकसभा में कराधान विधि संशोधन विधेयक पर बहस के दौरान जब विपक्षी सांसदों ने राहुल बजाज के डर लगने वाले बयान का जिक्र किया तो लखीमपुर खीरी के भाजपा सांसद ने चीनी मिलों का मुद्दा उठा दिया।

अजय मिश्रा ने कहा, “लखीमपुर खीरी मेरा लोकसभा क्षेत्र है, गन्ना उत्पादन का यह बड़ा क्षेत्र है। दस बड़ी चीनी मिले हैं, जिसमें तीन चीनी मिलें राहुल बजाज की हैं। बजाज की तीन चीनी मिलों पर दो साल में दस हजार करोड़ रुपये का किसानों का बकाया है।” जब विपक्षी सांसदों ने चीनी मिल से जुड़े दावे पर सवाल उठाए तो सांसद अजय मिश्रा ने कहा, “लखीमपुर खीरी से ही मैं सांसद हूं और मैं आपसे ज्यादा जानता हूं। राहुल बजाज का बेटा हर तीन महीने में वहां आता है। राहुल बजाज का बेटा ही चीनी मिलों का मालिक है।”

भाजपा सांसद ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गन्ना किसानों के बकाए को लेकर निश्चित रूप से जिस तरह से सरकार सक्रिय है, मुख्यमंत्री कार्रवाई कर रहे हैं, उससे भयभीत होना स्वाभाविक है। जो गलत काम से जुड़े हैं, उन्हें डरना चाहिए। बता दें कि, बजाज ग्रुप की चीनी मिलों के चेयरमैन कुशाग्र बजाज बताए जाते हैं। कुशाग्र बजाज, राहुल बजाज के छोटे भाई के बेटे हैं। हालांकि, भाजपा सांसद का कहना है कि राहुल बजाज का लड़का ही चीनी मिलों का मालिक है।

इस कड़ी में सांसद अजय मिश्रा ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में में गन्ना किसानों के बकाए को लेकर जिस तरह से सरकार सक्रिय है, मुख्यमंत्री कार्रवाई कर रहे हैं, उससे भयभीत होना स्वाभाविक है। जो गलत काम से जुड़े हैं, उन्हें डरना चाहिए। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here