उत्तर प्रदेश: बीजेपी विधायक ने एसडीएम को खुलेआम धमकाया, बोले- ‘आपको मालूम नहीं मैं विधायक हूं, मेरी ताकत का एहसास नहीं है?’ देखिए वीडियो

0

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर सीकरी से बीजेपी विधायक उदयभान चौधरी का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में वह एक महिला अधिकारी को धमकाते हुए कह रहें है कि आपको मालूम नहीं मैं विधायक हूं, मेरी ताकत का एहसास नहीं है, लोकतंत्र के पावर का एहसास है?

उत्तर प्रदेश

दरअसल, बताया जा रहा है कि सोमवार को फतेहपुर सीकरी की तहसील किरावली में अपनी मांगों को लेकर कुछ किसान प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान बीजेपी विधायक उदयभान चौधरी किसानों की समस्या को लेकर उनसे बात करने के लिए पहुंचे हुए थे। यहां ड्यूटी पर तैनात एसडीएम गरिमा सिंह से उनकी किसी बात पर बहस हो गई। जिसके बाद वो एसडीएम को धमकाते हुए कहने लगे कि ‘क्या आपको नहीं पता मैं एक विधायक हूं? आप मुझसे हेकड़ी से बात करेंगी? मेरी ताकत का अहसास नहीं है? लोकतंत्र की ताकत का अहसास नहीं है?’

इस दौरान एसडीएम चुपचाप यह सब सुनती रहीं। वहीं, इस तड़का भड़की के बाद वहां मौजूद भीड़ ने एसडीएम मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरू किया। हालांकि, घटना का यह वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर बीजेपी विधायक की लोग जमकर अलोचना कर रहें है।

मेरी ताक़त का एहसास नहीं है

तुम्हे मालूम नहीं मैं विधायक हूँ, मेरी ताक़त का एहसास नहीं है ? उत्तर प्रदेश में भाजप विधायक की आईएएस अधिकारी गरिमा सिंह को खुली धमकी

Posted by Rifat Jawaid on Monday, December 17, 2018

एक यूजर ने लिखा, “महिला सम्मान की बात करने वाली बीजेपी के विधायक द्वारा महिला उपजिलाधिकारी के साथ ये व्यवहार हे राम हे राम।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “महिलाओं के प्रति इस तरह का व्यवहार एक विधायक को शोभा नहीं देता।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “बीजेपी और अमित शाह सबसे पहले अपने पार्टी से ऐसे घमण्डी नेताओं को बाहर भगाइये।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “तेरा घमंड २०१९ में आम जनता तोड़ेगी।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, ब्यूरोक़्रेसी बेलगाम हो गई है योगी आदित्यनाथ जी अधिकारियों पर नकेल कसिए आप के छवि के अनुरूप कार्य होता नहीं दिख रहा है केंद्र सरकार की योजनाओं के कारण चाहूओर विकास दिख रहा है पर बिजली के अलावा और कोई सुधार प्रदेश स्तर पर विशेष रूप से नहीं दिख रहा।”

बता दें कि उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लाख नसीहत के बावजूद उनके विधायकों और नेताओं को समझ नहीं आ रही। इसी का नतीजा है कि गुंडाराज खत्म करने के वादे के साथ सत्ता में आई योगी सरकार में भी नेताओं पर सत्ता का नशा कायम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here