‘नशामुक्त बिहार’ में BJP विधायक का बेटा शराब के साथ गिरफ्तार

0
2
बिहार
Photo: Social media

बिहार में शराबबंदी लागू हुए 2 साल से अधिक का समय हो चुका है। सूबे में एक अप्रैल, 2016 को शराबबंदी के पहले चरण की शुरुआत हुई थी। इसके पांचवें दिन ही यानी 5 अप्रैल को अचानक सूबे में पूर्ण शराबबंदी की घोषणा कर दी गई थी। शराबबंदी के सख्त कानून ने राज्य के दसियों हजार से ज्यादा लोगों को जेल में डाल रखा है। लेकिन रविवार (1 जुलाई) को नीतीश सरकार के दावे की पोल उस वक्त खुल गई, जब उनकी सरकार में गठबंधन पार्टी बीजेपी के एक विधायक का बेटा ही शराब के साथ पकड़ा गया।

Photo: Social media

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सीवान के सदर से भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के विधायक व्यासदेव प्रसाद के बेटे सहित चार लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है। सभी नशे में धुत्त थे और उनकी गाड़ी से शराब की बोतल भी बरामद हुई है। पुलिस ने बताया कि सोमवार की सुबह वे लोग यूपी-बिहार के बॉर्डर पर मैरवा थानांतर्गत चेकिंग अभियान चला रहे थे। उत्तर प्रदेश की ओर से आ रहे एक वाहन को चेकिंग के दौरान रोका गया, इसमें पांच लोग सवार थे।

पुलिस ने चेकिंग के दौरान उनकी गाड़ी में शराब भी बरामद की। जब इनसे पूछताछ की गई तो सामने आया इन पांचों में से एक व्यासदेव का बेटा है। पूछताछ में उन्होंने बताया कि वे लोग लखनऊ से एक शादी समारोह से लौट रहे थे।

इसी दौरान यूपी बिहार बॉर्डर पर पुलिस चेकिंग अभियान चला रही थी। पुलिस ने जब इन लोगों को गाड़ी की चेकिंग कराने के लिए कहा तो पहले तो सभी ने आनाकानी की लेकिन जब सख्ती से कहा गया तो गाड़ी चेक करानी पड़ी। पुलिस ने गाड़ी से शराब की बोतलें बरामद की हैं, साथ विधायक के बेटे सहित पांच को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बता दें कि, इससे पहले राज्य में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सांसद हरि मांझी के 18 वर्षीय बेटे राहुल कुमार मांझी को नशे की हालत में गिरफ्तार किया गया है। राहुल बोधगया थाना क्षेत्र के नामा पश्चिमी गांव में अपने साथियों संग शराब पी रहा था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here