कठुआ गैंगरेप-हत्या मामला: आरोपियों का समर्थन करने वाले J&K के दोनों BJP मंत्रियों ने दिया इस्तीफा

0

जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में नाबालिग मासूम बच्ची के साथ हुए गैंगरेप और उसकी हत्या का मामला भारत सहित पूरे विश्व में उबाल है। स्थानीय लोगों के विरोध और मासूम के साथ गैंगरेप और हत्या के आरोपियों के बचाव में निकली रैली के बाद से देश भर के लोगों में काफी गुस्सा है। इस बीच इस मामले को लेकर सवालों में घिरे जम्मू-कश्मीर सरकार के दो मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। बीजेपी कोटे के इन दोनों मंत्रियों पर आरोपियों के समर्थन में निकाली गई रैली में शामिल होने का आरोप है।

बता दें कि कठुआ के हीरानगर तहसील के रसाना गांव में इसी साल की शुरूआत में जनवरी महीने में आठ साल की बच्ची आसिफा का अपहरण कर उसके साथ एक मंदिर में सामूहिक दुष्कर्म किया गया और फिर उसकी जघन्य तरीके से हत्या कर दी गई। बच्ची के साथ दरिंदगी और हत्या के मामले में स्थानीय लोगों समेत अब तमाम बड़ी हस्तियों का भी गुस्सा देखने को मिल रहा है।

भारी दबाव के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्ची से गैंगरेप व उसकी नृशंस हत्या की शर्मनाक घटना पर शुक्रवार (12 अप्रैल) को पहली बार चुप्पी तोड़ी है। प्रधानमंत्री ने दोनों घटनाओं को शर्मनाक बताते हुए कहा कि गुनहगारों को कड़ी सजा दिलवाने में भारत सरकार कोई कोताही नहीं होने देगी। दोनों मामलों में बेटियों को न्याय मिलकर रहेगा और गुनहगारों को सख्त सजा मिलेगी।

हालांकि पीएम के संबोधन के दौरान ही समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से जम्मू-कश्मीर से दोनों मंत्रियों के इस्तीफे की खबर आई। एजेंसी के मुताबिक कठुआ में आरोपियों के पक्ष में रैली निकालने वाले बीजेपी के दोनों मंत्रियों चंद्र प्रकाश गंगा और लाल सिंह ने इस्तीफा दे दिया है।

बता दें कि हाल ही में इन दोनों मंत्रियों ने कठुआ में एक रैली को संबोधित करते हुए गैंगरेप केस के आरोपियों का बचाव किया था। यह रैली हिंदू एकता मंच के द्वारा आयोजित की गई थी। रिपोर्ट के मुताबिक दोनों मंत्रियों ने जम्मू-कश्मीर बीजेपी के अध्यक्ष को अपना इस्तीफा सौंप दिया है। गौरतलब है कि कठुआ में आठ साल की बच्ची के रेप और हत्या मामले पर देशभर से कड़ी प्रतिक्रियाएं आई हैं।

देश भर में विरोध प्रदर्शन का दौर भी चल रहा है। गुरुवार देर रात कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस ने इस मुद्दे पर राजधानी नई दिल्ली के इंडिया गेट से कैंडल मार्च निकाला था। इस प्रदर्शन में प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा के अलावा कांग्रेस के तमाम वरिष्ठ नेताओं और हजारों की संख्या में लोगों ने हिस्सा लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here