BJP नेता राम माधव ने भी माना, नहीं आ सकती है पार्टी को लोकसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत

0

केंद्र में सत्तारुढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने ब्लूमबर्ग को दिए इंटरव्यू में एक बड़ा बयान दिया है। राम माधव ने इस इंटरव्यू में यह स्वीकार किया है कि इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी पूर्ण बहुमत से कुछ सीटें दूर रह सकती है। माधव का कहना है कि इस बार बीजेपी को बहुमत के लिए सहयोगियों की आवश्यकता पड़ सकती है।

Photo: Bloomberg

हालांकि, माधव के उलट बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस बात का भरोसा जताया है कि भारतीय जनता पार्टी पूर्ण बहुमत हासिल करेगी, लेकिन पार्टी महासचिव के इस बयान के बाद बीजेपी के भीतर पूर्ण बहुमत को लेकर आत्मविश्वास पर सवाल खड़ा हो गया है।

माधव ने शनिवार को नई दिल्ली में ब्लूमबर्ग न्यूज के एडिटर-इन-चीफ जॉन मिकलेथवेट के साथ एक इंटरव्यू में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का जिक्र करते हुए कहा कि अगर हमें अपने दम पर 271 सीटें मिलती हैं, तो हमें बहुत खुशी होगी। लेकिन हम एनडीए के घटक दलों के साथ मिलकर आराम से पूर्ण बहुमत हासिल करेंगे।

बीजेपी नेता का दावा है कि उत्तर भारतीय राज्यों जो बीजेपी को नुकसान होगा उसकी भरपाई पूर्वोत्तर राज्यों और पश्चिम बंगाल व ओडिशा से हो जाएगी। उन्होंने कहा कि हम देश की आर्थिक स्थिति को बेहतर करने वाली नीतियों पर काम करेंगे और सुधार के केंद्र से नहीं भटकेंगे।

वहीं, भदोही में पीएम नरेंद्र मोदी की रैली से पहले उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने कहा कि 2014 में मोदी लहर थी, लेकिन इस बार 2019 में मोदी की सुनामी है। कमल को दिया गया आपको वोट काफी अहम है, इसका मतलब होगा कि आप आतंकी कैंप पर 1000 किलोग्राम का बम गिराएंगे।

इंटरव्यू के दौरान माधव ने कहा कि पीएम मोदी की लोकप्रियता काफी अधिक है और लोगों को उनपर भरोसा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से फरवरी महीने में भारतीय सेना ने एयर स्ट्राइक की और इसके बाद आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किया गया उससे लोगों का प्रधानमंत्री पर भरोसा और मजबूत हुआ है। बता दें कि लोकसभा की 542 सीटों के लिए सात चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई के बीच चुनाव हो रहे हैं। मतगणना 23 अप्रैल को होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here