बीजेपी के इस दिग्गज नेता ने अमित शाह और योगी आदित्यनाथ को की पद से हटाने की मांग, पार्टी को दी नितिन गडकरी को उप प्रधानमंत्री बनाने की सलाह

0

2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के एक दिग्गज नेता ने अपनी ही पार्टी पर निशाना साधा है और शीर्ष स्तर पर कुछ जरूरी बदलाव करने के लिए भी सुझाव दिया। बीजेपी के दिग्गज नेता संघप्रिय गौतम ने कहा कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी को उप प्रधानमंत्री बनाया जाना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जाना चाहिए।

बीजेपी

अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में कैबिनेट मंत्री के रूप में काम करने वाले बीजेपी के दिग्गज नेता संघप्रिया गौतम ने अपनी पार्टी को पत्र लिखकर नितिन गडकरी को उप प्रधानमंत्री बनाने की मांग की। संघप्रिय गौतम ने कहा कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह को उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जाना चाहिए। वरिष्ठ भाजपा नेता यही नहीं रुके उन्होंने बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को उनके पद से हटाने की मांग करते हुए कहा कि उनकी जगह मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को नियुक्त किया जाना चाहिए।

आईएएनएस की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि संघप्रिय गौतम ने अमित शाह को राज्यसभा सांसद के रूप में अपनी भूमिका पर अधिक ध्यान केंद्रित करने की सलाह दी। अपने पत्र में संघप्रिय गौतम ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में कहा है कि उन्हें मुख्यमंत्री की कुर्सी से हटाकर धार्मिक कार्यों में लगा देना चाहिए।

संघप्रिय ने कहा कि मोदी मंत्र एक बार फिर से 2019 के लोकसभा चुनाव में दोहराया जा सकता है यह संभव नहीं लगता है। खुद ही पार्टी के कार्यकर्ता आपस में बात करते हैं और इस बात को शांति में स्वीकार करते हैं। संघप्रिय ने कहा कि स्थिति इतनी खराब है कि अगर मौजूदा समय में फिर से चुनाव हो जाए तो बीजेपी सत्ता में वापसी करने में विफल रहेगी। उनके अनुसार, भाजपा को कुछ राज्यों को छोड़कर पूरे देश में स्थानांतरित कर दिया जाएगा।

संघप्रिय गौतम ने कहा कि जनता ही नहीं बीजेपी कार्यकर्ताओं में भी सरकार की कार्यप्रणाली को लेकर काफी गुस्सा है। उन्होंने योजना आयोग को नीति आयोग में बदलना, सुप्रीम कोर्ट, भारतीय रिजर्व बैंक(आरबीआई), केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) आदि संवैधानिक संगठनों के कामकाज में हस्तक्षेप किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here