VIDEO: बीजेपी नेता नरेश अग्रवाल के बेटे ने मंदिर के बाहर खाने के पैकेट में बांटी शराब की बोतलें, पार्टी सांसद ने सीएम योगी को पत्र लिखकर की कार्रवाई की मांग

0

उत्तर प्रदेश से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता नरेश अग्रवाल के बेटे नितिन अग्रवाल की ओर से मंदिर में आयोजित एक कार्यक्रम में खाने के पैकेट्स में शराब की बोतलें रखकर बांटने का मामला सामने आया है। मामला का खुलासा तब हुआ, जब इन पैकेट्स की तस्वीरें मीडिया में आ गईं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दलितों को लुभाने और उन्हें अपने पाले में लाने के लिए रविवार को नरेश अग्रवाल की तरफ से श्रवण देवी मंदिर पर पासी समाज का सम्मेलन आयोजित किया। कार्यक्रम खत्म होने के बाद वहां मौजूद सभी लोगों में खाने के पैकेट बांटे गए, इसी लंच पैकेट में पूरी-सब्जी के साथ शराब की बोतल भी रखी गईं थीं। इतना ही नहीं पार्टी कार्यकर्ता ने बच्चों को भी लंच पैकेट के साथ शराब बांटी, जिसकी तस्वीरें व वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहीं है। वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि पूरी-सब्जी के साथ पैकेट्स में शराब की बोतल रखी हुई है।

मामले में हरदोई से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा ने अपनी ही पार्टी के नेता अग्रवाल पर शराब बंटवाने का आरोप लगाकर सनसनी फैला दी है। सांसद अंशुल वर्मा ने रविवार को आयोजित हुए पासी सम्मेलन में शराब बांटने का आरोप लगाकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेजकर शिकायत की है और पासी समाज की खातिर सड़क पर उतरने तक की चेतावनी दी।

अंशुल वर्मा ने सात जनवरी को मुख्यमंत्री को भेजे गए पत्र में कहा, ‘उनके संसदीय क्षेत्र लोकसभा हरदोई के प्राचीन धार्मिक स्थल श्रवण देवी मंदिर परिसर में छह जनवरी को बीजेपी नेता नरेश अग्रवाल द्वारा आयोजित पासी सम्मेलन में उपस्थित क्षेत्रवासियों व नाबालिग बच्चों के मध्य लंच पैकेटों, शराब की शीशी का वितरण किया गया।’

उन्होंने अपने पत्र में आगे लिखा, ‘यह अत्यन्त दु:खद है कि जिस संस्कृति की हमारी पार्टी दुहाई देती है हमारे नवागंतुक सदस्य श्री अग्रवाल उस संस्कृति को ही भूल गए हैं।’ पत्र में पार्टी की नीतियां और समाज के बोर में अन्य बातों का जिक्र करते हुए उन्होंने इसे पासी समाज का उपहास और शराब बांटने जैसे कार्य को निंदनीय बताया है।

सांसद ने अपने पत्र में आगे लिखा, ‘आज जब हमारी सरकार धर्म में आस्था दिखा रही है और देश के अंतिम व्यक्ति को मुख्य धारा में लाने के लिए प्रयास कर रही है। ऐसे समय में नरेश जी द्वारा हमारे पासी समाज का मजाक बनाकर जनपद की प्रख्यात शक्तिपीठ में शराब बांटने जैसा काम निंदनीय है। अगर पार्टी विरोधी ऐसी गतिविधियों को पार्टी गंभीरता से नहीं लेती है तो हमारे समाज के हितों के लिए हमें सड़क पर उतरना पड़ेगा और उनके सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा।’

उन्होंने आगे लिखा, ‘यदि इस प्रकार की पार्टी विरोधी गतिविधियों को गंभीरता से नहीं लिया गया तो समाज के हितार्थ चाहें सड़क पर उतरना पड़े उनके सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। यदि इस प्रकरण में प्रशासनिक अधिकारियों की भी लापरवाही साबित होती है तो उनके विरुद्ध भी कठोर विभागीय कार्रवाई की जाए।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here