‘संबित पात्रा को भूल जाइए, अब हमारे पास नलिन कोहली के रूप में नई राष्ट्रीय शर्मिंदगी आ गए हैं’

0

विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस पर अल-जज़ीरा टीवी के एंकर मेहंदी हसन ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रवक्ता नलिन कोहली का इंटरव्‍यू लिया। इंटरव्‍यू का वीडियो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। नलिन कोहली को अल-जज़ीरा टीवी पर अपनी प्रतिक्रिया के बाद अपनी पार्टी के सहयोगी संबित पात्रा की जगह नई राष्ट्रीय शर्मिंदगी के रूप में वर्णित किया जा रहा है, जिसको लेकर सोशल मीडिया पर काफी प्रतिक्रिया सामने आ रहीं है।

नलिन कोहली

इंटरव्‍यू में अल-जज़ीरा टीवी के एंकर मेहंदी हसन ने बीजेपी नेता ने कई तीखे सवाल पूछे। इंटरव्‍यू के दौरान नलिन कोहली को उनके पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और बीजेपी द्वारा एक आतंकवादी-अभियुक्त प्रज्ञा सिंह ठाकुर को लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार के रूप में दीमक कहे जाने वाले मुस्लिम प्रवासियों के सवालों के उपयुक्त जवाब के लिए फंसते देखा गया। बता दें कि, नलिन कोहली सुप्रीम कोर्ट के एक वकील भी है।

मेहदी हसन ने नलिन कोहली से पूछा कि, आतंकवादी मसले पर ट्रायल झेल रही साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को बीजेपी ने टिकट क्यों दिया। कोहली को एंकर के इस सवाल का जवाब देते नहीं बन रहा था। कोहली ने एंकर को सलाह दी कि उन्हें सर्वोच्च न्यायालय की सुनवाई में हिस्सा लेना चाहिए, जिसमें साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ ‘सबूतों का एक कोटा’ नहीं मिला।

उनके झूठ को पर्दाफाश करते हुए मेहदी ने पूछा, “माफ करना, मैं उलझन में हूं। मैं गलत हो सकता हूं। वह आतंकवाद के मुकदमे में नहीं है?” मेहदी को एक और सवाल दागने से पहले कोहली ने कहा, “वह नहीं है, मैं कह रहा हूं…”

कोहली ने इंटरव्‍यू खत्म और अपने दर्शकों को सूचित करते हुए एंकर से कहा कि ‘जाओ और फैसले को पढ़ो’। लेकिन मेहदी कोहली को छोड़ने के मूड में नहीं थे। उन्होंने पूछा, उन्होंने (सुप्रीम कोर्ट ने) मामले को तूल दिया। वह निर्दोष है। क्या आपके कहने का मतलब यह है? इसका जवाब देते हुए कोहली ने एक बार और कहा “मैने कभी नही कहा कि। मैंने कहा कि वह जमानत पर है”।

25 अप्रैल 2017 को प्रज्ञा ठाकुर को सुप्रीम कोर्ट ने नहीं बल्कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत दी थी। यह देखने वाली बात होगी कि कोई शीर्ष अदालत में उनके खिलाफ अवमानना ​​का मामला दायर करता है।

बीजेपी प्रवक्ता से अमित शाह की भारत में मुस्लिम प्रवासियों को दीमक के रूप में उल्लेख करने वाली विवादास्पद टिप्पणियों के बारे में भी पूछा गया। कोहली ने एंकर से भारतीय संदर्भ में दीमक का मतलब समझने को कहा। उन्होंने कहा, “अनिवार्य रूप से और भारत में हम इसका उपयोग करते हैं क्योंकि हमारे पास बहुत सारे दीमक हैं, वे जमीन से आते हैं और वे आपको अंदर से खोखला खाते हैं।” इसके बाद उन्होंने बताया कि भारत के उत्तर-पूर्वी राज्यों में मुस्लिम आबादी कितनी कम हो गई है।

इस पूरे इंटरव्‍यू के दौरान उनकी बेचैनी देखने को मिली, जिसको लेकर वो सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए और लोग इस पर जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहें है।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here