असम में नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध तेज, बीजेपी जिला अध्यक्ष को भीड़ ने दौड़ा दौड़ाकर पीटा, देखिए वीडियो

0

नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ असम में विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। इसी बीच, बुधवार को तिनसुकिया जिले में विरोध प्रदर्शन के दौरान कुछ प्रदर्शनकारी उग्र हो गए और उन्होंने राज्य में सत्तारूढ़ बीजेपी के एक स्थानीय नेता के साथ धक्कामुक्की और मारपीट की। इस पूरे घटना क्रम का एक वीडियो भी सामने आया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

असम

असम के तिनसुकिया में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के जिला अध्यक्ष लखेश्वर मोरां पर सिटिजनशिप बिल को लेकर प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया। तिनसुकिया में आरएसएस ने प्रदर्शन की जगह पर एक बैठक का आयोजन किया था। ऑल असम स्टूडेंट यूनियन, असोम जातियाताब्दी युवा छात्र परिषद् और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बीच झड़प हो गई।

वीडियो में नजर आ रहा है कि प्रदर्शनकारियों के एक समूह ने लखेश्वर मोरान पर हमला कर दिया और दौड़ा-दौड़ाकर बुरी तरह से पीट-पीट कर लहूलुहान कर दिया। वीडियो में दिख रहा है कि कैसे भीड़ मोरन पर टायर से हमला कर रहें है। हालांकि, पुलिस ने कड़ी मशक्त के बाद मोरन को प्रदर्शनकरियों के चंगुल से छुड़ा कर बचाया।

बता दें कि नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ असम में प्रदर्शन लगातार जारी है। ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन (AASU) ने गुरुवार देर रात मशाल जलाकर सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया। उन्हें विपक्षी कांग्रेस का भी समर्थन मिला है।

एएएसयू के मुख्य सलाहकार समुज्जल भट्टाचार्य और अध्यक्ष दीपिका नाथ के नेतृत्व में यह प्रदर्शनकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और राज्य और केंद्र में बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकारों के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here