बीजेपी के ‘सामान्य ज्ञान 2017’ में पं. नेहरू नहीं है देश के ‘पहले प्रधानमंत्री’ और न महात्मा गांधी ‘महापुरुष’

0

पुस्तकों से मुगलों पर आधारित अध्याय को हटाने की मंशा, इतिहास से छेड़छाड़, ताजमहल और दूसरी मुगल इमारतों पर विवादित बयान के कथित प्रोपगंडों के बाद बीजेपी अपने सामान्य ज्ञान 2017 में पंडिण्त नेहरू को नहीं मानती देश का पहला प्रधानमंत्री और न ही उनकी नज़र में वह महात्मा गांधी को महापुरुष का स्थान देती है।

बीजेपी और संघ के आदर्श रहे पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम को इस बार केन्द्र की सरकार अच्छे से भुनाना चाहती है इसके लिए चाहे उसे मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलना हो या भव्य स्तर पर उनका जन्मवर्ष मनाने का कार्यक्रम हो। बीजेपी इस बार
2017 को पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्मवर्ष के तौर पर बना रही है और इस मौके पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय को समर्पित करते हुए कई सारी स्कीम और कार्यक्रमों का आयोजन बीजेपी को करना है।

इसी के तहत बीजेपी ने एक ‘सामान्य ज्ञान 2017’ नाम से 70 पेजों की एक बुकलेट छपवाई है। इन बुकलेट्स को कई सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों के हजारों बच्चों को बांटा गया है।

इस पुस्तक में सामान्य ज्ञान की बातें बताई गई है लेकिन बीजेपी के अनुसार किताब के 34वें पेज पर शीर्षक है-भारत में पहले। इसमें देश के पहले राष्ट्रपति, गवर्नर जनरल, उप राष्ट्रपति, लोकसभा स्पीकर और उपप्रधानमंत्री के बारे में बताया गया है। लेकिन हैरान करने वाली बात यह है कि प्रथम के हिसाब से इसमें पंडित जवाहर लाल नेहरू का नाम प्रथम प्रधानमंत्री के तौर पर कहीं नहीं दिखता।

इसी पुस्तिका के पेज संख्या 7 पर “महापुरूषों की सूची” दी गई है। इस सूची में स्वामी विवेकानंद, लक्ष्मीबाई, भीमराव अंबेडकर, बिरसा मुंडा, श्यामा प्रसाद मुखर्जी, नानाजी देशमुख, मदनमोहन मालवीय, डॉ हेडगेवार, कबीर दास, पटेल, गुरु गोविंद सिंह और वीर सावरकर आदि के नाम शामिल हैं लेकिन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का नाम कहीं नहीं दिख रहा है। पुस्तक में महात्मा गांधी को राष्ट्रपिता भी नहीं बताया गया है।

इस पुस्तक में जनसंघ, बीजेपी और संघ के प्रमुख नेताओं के अलावा राष्ट्रवाद, हिंदुत्व, आरएसएस, आदि के बारे में बताया गया है। दीनदयाल उपाध्याय की संक्षिप्त जीवनी, आरएसएस और जनसंघ के लिए उनके योगदान का परिचय है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, बीजेपी की उत्तर प्रदेश यूनिट ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समिति का गठन किया है। इस समिति की अगुआई यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य कर रहे हैं। कई अन्य बीजेपी नेता भी इसका हिस्सा हैं। इस समिति की ओर से एक जनरल नॉलेज कॉम्पिटिशन आयोजित कराया गया था। इसी कारण यह बुकलेट छपवाई गई थी।

सबसे बड़ी बात की आगे के सामान्य ज्ञान में पूरी तरह से पीएम मोदी की प्रशंसा की गई है। इस पुस्तिका में “सम-सामयिकी” शीर्षक के तहत यह बताया गया है कि मेक इन इंडिया का नारा किसने दिया?

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here