लोकसभा चुनाव: पटना साहिब से शत्रुघ्न सिन्हा की जगह बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद को उतारा, गिरिराज सिंह इस सीट से लड़ेंगे चुनाव

0

लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने शनिवार को अपने उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की, जो बिहार से चुनाव में उतरेंगे। वहीं बीजेपी ने इस बार शत्रुघ्न सिन्हा को टिकट नहीं दिया है। पटना साहिब सीट से शत्रुघ्न सिन्हा की जगह केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को उतारा गया है। बता दें कि 2014 में शत्रुघ्न सिन्हा ने बीजेपी के टिकट पर यहां से चुनाव लड़ा था और जीत दर्ज की थी। रविशंकर प्रसाद केंद्र में नरेंद्र मोदी की कैबिनेट का अहम हिस्सा रहे हैं।

लोकसभा चुनाव

बीजेपी के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव ने एनडीए की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उम्मीदवारों का ऐलान किया। इस दौरान जदयू (JDU), बीजेपी और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के प्रदेश अध्यक्ष और भूपेंद्र यादव और सुशील मोदी भी मौजूद हैं। बीजेपी महासचिव भूपेंद्र यादव ने एनडीए लिस्ट जारी करते हुए कहा 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडीए पीएम मोदी के नेतृत्व में पूरे देश में एक मजबूत सरकार बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहा है।

बिहार बीजेपी के तीन दिग्गजों को सबसे बड़ा झटका लगा है। गिरिराज सिंह की नाराजगी के बाद भी उनकी सीट नवादा से बदलकर बेगूसराय कर दी गई है जबकि शत्रुघ्न सिन्हा को पटना साहिब से टिकट नहीं दिया गया है। उनकी सीट से रविशंकर प्रसाद को टिकट दिया गया है। इसके अलावा शाहनवाज हुसैन को भी झटका लगा है। इस लिस्ट में शाहनवाज का नाम नहीं है। शाहनवाज पिछली बार भागलपुर से लड़े थे लेकिन वो हार गए थे। इस बार बीजेपी ने भागलपुर की सीट जेडीयू को दे दी है। उम्मीद थी कि शाहनवाज को कहीं से टिकट मिलेगा लेकिन बीजेपी ने उन्हें टिकट नहीं दिया है।

नवादा सीट लोक जनशक्ति पार्टी को सीट बंटवारे के सौदे के रूप में दी गई है। लोजपा ने इस साल के संसदीय चुनावों में चंदन कुमार को यहां से मैदान में उतारा है। लोजपा ने पार्टी प्रमुख रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान को जमुई लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया गया है।

इसके अलावा प्रमुख चेहरो में पूर्वी चंपारण से बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री राधा मोहन सिंह को उम्मीदवार बनाया है, वहीं सारण से राजीव प्रताप रूडी मैदान में होंगे। प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष नित्यानंद राय को उजियारपुर से उम्मीदवार बनाया गया है। केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे की बक्सर सीट बरकरार रखी गई है।

बता दें कि एनडीए में सीट बंटवारे के फॉर्म्युले के तहत बीजेपी और जेडीयू 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं। जबकि एनडीए का एक अन्य सहयोगी एलजेपी के खाते में 6 सीटें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here