यूपी चुनाव: आपस में भिड़े बीजेपी और कांग्रेस समर्थक, एक दलित युवक की मौत

0
Follow us on Google News

आज उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए 12 जिलों की 69 सीटों पर वोटिंग कराई गई। कुछ जगह पर चुनाव के वक्त हिंसक झड़प कि खबर भी सामने आई है, लेकिन अब छिटपुट हिंसक झड़प के बीच मतदान संपन्न हो गया। बता दें कि, तीसरे चरण में जिन 12 जिलों में मतदान हुआ उनमें राजधानी लखनऊ सहित कानपुर नगर, कानपुर देहात, इटावा, औरेया, मैनपुरी, कन्नौज, फर्रुखाबाद, बाराबंकी, सीतापुर, उन्नाव आदि जिले शामिल थे।

फोटो- अमर उजाला

ख़बर के अनुसार, कानपुर के किवाडी नगर में बीजेपी और कांग्रेस समर्थक भिड़े गए इस भिडंत में 8 लोग घायल हो गए तो वहीं मैनपुरी के बेवर के नगला ताल में दलित युवक आलोक की हत्या कर दी गई। परिजनों का आरोप है कि, आरोपी के कहने पर वोट नही दिया तो गोली मार दी।

अमर उजाला कि ख़बर के अनुसार, मतदान खत्म होने से पहले इटावा के जसवंत नगर में जमकर बवाल हुआ। इस दौरान सपा और भाजपा समर्थकों के बीच जमकर नारेबाजी हुई। भीड़ पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। बताया जा रहा है कि, वोटिंग लिस्ट में नाम न होने पर मतदाताओं के पक्ष में सपा के कार्यकर्ताओं ने हंगामा करना शुरू कर दिया तभी भाजपा समर्थक भी उग्र हो गए। सुरक्षा बल ने लाठी चर्ज कर भीड़ को खदेड़ा। हंगामा इतना बढ़ कि मौके पर डीएम और एसपी को भी आना पड़ा।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गंगा सहाय कन्या इंटर कॉलेज बूथ पर दहशत फैलाने के उद्देश्य से लड़कों ने की तमंचे से फायरिंग। आरोपी लड़के सराय लतीफ की ओर भागे मौके पर पुलिस भी पहुंची। सुत्रों कि जानकारी के अनुसार, मैनपुरी शहर में किसी मतदान केंद्र पर पैरामिलिट्री फोर्स  तैनात नहीं है। वहीं मैनपुरी में भी गडेरी गांव में सपा समर्थकों ने दिवाकर समाज के लोगों को वोट डालने से रोका, उनका पहचान पत्र फाड़ा, सोनेलाल दिवाकर के मकान में आग तक लगाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here