कोलकाता: गोमूत्र सेवन कार्यक्रम के बाद बीमार पड़ा एक शख्स, गोमूत्र पिलाकर कोरोना वायरस ठीक होने का दावा करने वाला BJP कार्यकर्ता गिरफ्तार

0

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में गोमूत्र सेवन कार्यक्रम आयोजित करने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक कार्यकर्ता को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बुधवार को कहा कि भाजपा कार्यकर्ता ने दावा किया था कि गोमूत्र के सेवन से लोग कोरोना वायरस से सुरक्षित रहेंगे और जो लोग कोरोना वायरस से पहले से ही संक्रमित हैं, वे ठीक हो जाएंगे। हालांकि, गोमूत्र के सेवन के बाद एक नागरिक स्वयंसेवी ही बीमार पड़ गया था। पुलिस ने कहा कि पीड़ित की शिकायत के बाद भाजपा कार्यकर्ता को मंगलवार देर रात गिरफ्तार किया गया।

कोलकाता
फाइल फोटो

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, उत्तरी कोलकाता के जोरासाखो इलाके के स्थानीय पार्टी कार्यकर्ता 40 वर्षीय नारायण चटर्जी ने सोमवार को एक गोशाला में गौ-पूजा कार्यक्रम का आयोजन किया था और गोमूत्र वितरित किया था। उसने दूसरों को गोमूत्र देते हुए इसके ‘चमत्कारिक’ गुणों का जिक्र किया था। गोशाला के पास तैनात एक नागरिक स्वयंसेवी ने भी गोमूत्र का सेवन किया और मंगलवार को बीमार पड़ गया, जिसके बाद उसने नारायण चटर्जी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, नारायण चटर्जी की गिरफ्तारी पर प्रदेश भाजपा नेतृत्व ने राज्य सरकार की निंदा की है। पार्टी की राज्य इकाई के महासचिव सायंतन बसु ने कहा, ‘नारायण चटर्जी ने गोमूत्र का वितरण किया लेकिन लोगों से उसने धोखे से उसे पीने को नहीं कहा। जब उसने इसका वितरण किया तो साफ तौर पर बताया कि यह गोमूत्र है, उसने किसी को इसे पीने के लिये बाध्य नहीं किया। यह प्रमाणित नहीं है कि यह नुकसानदेह है या नहीं। ऐसे में पुलिस बिना किसी कारण के उन्हें गिरफ्तार कैसे कर सकती है। यह पूरी तरह अलोकतांत्रिक है।’

पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने कहा कि गोमूत्र पीने में कोई नुकसान नहीं है और उन्हें यह स्वीकार करने में कोई पछतावा नहीं कि वह इसका सेवन करते हैं। हालांकि, भाजपा की सांसद लॉकेट चटर्जी दिलीप घोष की इस राय से इत्तेफाक नहीं रखतीं। उन्होंने गोमूत्र के सेवन को ‘अवैज्ञानिक मान्यता’ करार देते हुए बंद करने की हिमायत की। कोरोना वायरस के उपचार के तौर पर गोमूत्र वितरण की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी कांग्रेस ने तीखी आलोचना की थी।

बता दें कि, कोरोना वायरस के मामलों में देश में तेजी आई है और इससे संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। सरकार ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए लोगों से भीड़ वाले इलाकों में जाने से बचने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here