बिहार शराबबंदी की खुली पोल,जहरीली शराब से 12 मौत

0

बिहार में शराबबंदी के बाद भी शराब से मौते होने की वारदाते सामने आ रही हैं। ऐसा ही एक मामला बिहार के गोपालगंज का है जहां पर शराब पीने की वजह से 12 लोगों की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। माना जा रहा है कि इलाके में ज़हरीली शराब बेची जाती है जिस वजह से ये मौते हुई हैं।हालांकि अभी इसकी आधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं हुई है।कहा ये भी जा रहा है कि बिहार में शराब की पाबंदी के बाद केस के डर से परिवार ने जल्दबाजी में शवों का अंतिम संस्कार कर दिया।

Also Read:  लखनऊ एनकाउंटर: संसद में बोले राजनाथ सिंह- 'सैफुल्लाह के पिता पर नाज है हमें'

gopalganj_650x400_71471416972

सूत्रों के मुताबिक, गोपालगंज जिले में संदिग्ध परिस्थिति में 12 लोगों की मौत हुई है, जबकि पांच लोग गंभीर रूप से बीमार हो गए हैं और कुछ पीड़ित लोगों को इलाज के लिए गोरखपुर भेजा गया है।गोपालगंज के जिलाधिकारी राहुल कुमार ने सदर अस्पताल पहुंचकर चिकित्सकों से इस मामले पर बात की। चिकित्सकों ने बताया कि, ‘शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही मौत की वजहों के सही कारणों का पता चल सकेगा।’

Also Read:  ट्विटर पर आपस में भिड़े शिवराज सिंह चौहान और अरविंद केजरीवाल, जानें क्या है मामला

मृतक के परिजनों के अनुसार, कई लोगों ने मंगलवार सुबह नगर थाना क्षेत्र के हरखुआ में संचालित एक अवैध शराब भट्ठी से शराब पी थी और दोपहर के बाद सभी की हालत बिगड़ने लगी।  परिजनों ने यह भी बताया कि, मंगलवार को इन सभी लोगों को पेट दर्द और उल्टी हुई थी। जिसके बाद सभी को सदर अपताल में भर्ती कराया गया, जहां मंगलवार देर रात सात लोगों जबकि बुधवार तड़के तीन लोगों की मौत हो गई।

Also Read:  From Nitish Kumar to Arvind Kejriwal, PM Modi faces heat on busy political Sunday

पुलिस के मुताबिक, सभी मृतक नगर थाना के नोनिया टोली, पुरानी चौक, हरखुआ के रहने वाले हैं, जबकि एक और मृतक उचकागांव थाना के दहिभाता का निवासी है। उल्लेखनीय है कि बिहार में शराबबंदी के बाद भी शराब की अवैध बिक्री जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here