बिहार से भाजपा के नए राज्य सभा के उम्मीदवार के खिलाफ 28 आपराधिक मामले दर्ज

0

मंगलवार को भाजपा ने बिहार से राज्यसभा के उम्मीदवार की घोषणा की तो राजनितिक गलियारों में तरह तरह की बातें होना तै थीं।

अधिकतर लोगों का मानना था कि राज्य के वरिष्ठ नेता सुशिल मोदी को राज्यसभा का उम्मीदवार न बनाकर पार्टी ने उन्हें मुख्य्मंत्री नितीश कुमार की तारीफ़ में दिए बयान की सजा दी थी।

Also Read:  श्रीनगर एयरपोर्ट पर दो ग्रेनेड के साथ भारतीय सेना का एक जवान गिरफ्तार

मोदी ने कथित तौर पर अपने एक बयान में नितीश कुमार को प्रधानमंत्री मटेरियल बताया था।

सुशिल मोदी की जगह भाजपा ने जिसे राज्यसभा केलिए मनोनीत किया है, वो हैं 72 साल के नेता गोपाल नारायण सिंह।

सिंह के खिलाफ 28 आपराधिक मामले दर्ज हैं जिनमे हत्या की कोशिश जैसा संगीत आरोप भी शामिल है।

Also Read:  1000 और 500 के नोट बंद करने की खुफिया जानकारी क्या BJP कुंबे को पता थी?

सिंह के खिलाफ इतने सारे आपराधिक मामलों का होना इस मायने में काफी अहमियत रखता है कि भाजपा ने अपने विरोधियों खासकर जनता दाल यूनाइटेड और राष्ट्रीय जनता दाल पर राजनीति में अपराधिक तत्तवों को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

JD-U नेता संजय सिंह ने कहा, “क्या यही भाजपा का नया चल, चरित्र और चेहरा है?”

Also Read:  महाराष्ट्र के सीएम देवेन्द्र फडणवीस की शबाना आज़मी ने की आलोचना लिखा- मुख्यमंत्री सौदा कराते हैं 'पांच करोड़ में देशभक्ति खरीदते हैं'

गोपाल नारायण सिंह अपने खिलाफ आपराधिक मामलों के होने को ज़्यादा अहमियत नहीं देना चाहते.

उन्होंने कहा, ” जब भाजपा मुझे लेकर संतुष्ट है तो JD-U को क्यों तकलीफ हो रही है? ”

गोपाल नारायण सिंह के पास पिछले आठ असेंबली चुनाव में लगातार हार का रिकॉर्ड भी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here