कालाहांडी के बाद अब बिहार में शव वाहन ना मिलने पर हाथों में उठाकर ले गए प्लास्टिक में बंधी लाश

0

बिहार के कटिहार में ओडिसा के दाना मांझी जैसी वाक्या सामने आया है। जहां इंसानियत को शर्मसार करने वाला नजारा जिला हॉस्पिटल में नजर आया, अस्पताल परिसर से कुछ लोग शव को कपड़े में बांधकर प्लास्टिक के बोरे में रखकर पैदल ले जा रहे थे। जिसे देख कर कोई भी कह सकता है की इंसानियत भी दम तोड़ चुकी है।

Also Read:  Former Bihar CM Jitan Ram Manjhi meets PM Modi

दरअसल बिहार के कटिहार में 14 दिन पहले गंगा में आई बाढ़ में कुर्सेला थानाक्षेत्र के बालुटोला निवासी सिंटू साह नाम के युवक की नाव से उतरने के दौरान में डूबने से मौत हो गई थी, मृतक का शव उसके परिजनों ने 14 दिनों बाद खोज निकाला 25 सितंबर को इस शव को पोस्टमार्टम के लिए शव को कटिहार सदर अस्पताल भेजा गया, लेकिन अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही की वजह से 24 घंटे बीत जाने के बाद भी शव का पोस्टमार्टम नहीं किया गया।

Also Read:  Maneka wants special homes for children with permanent

आखिर में पोस्टमार्टम के लिए उसे भागलपुर भेजा गया, लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने, शव को ले जाने के लिए शव वाहन भी उपलब्ध नहीं कराया।

और इस गरीब परिवार को पोस्टमार्टम के लिए खुद से प्लास्टिक के बोरे में बंधे शव को हाथों में पकड़कर कर ले जाना पड़ा।

Also Read:  पाकिस्तान ने जम्मू क्षेत्र में बीएसएफ चौकियों पर किए हमले

देखिए वीडियों

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here