प्रशांत भूषण जनलोकपाल विधेयक पर अन्ना हजारे से मिले

0

आम आदमी पार्टी (आप) नेता प्रशांत भूषण ने गुरुवार को सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे से मुलाकात की और दिल्ली जनलोकपाल विधेयक की कमियों से उन्हें अवगत कराया। भूषण ने ट्वीट कर कहा कि बैठक अन्ना के निवास स्थान महाराष्ट्र के रालेगण सिद्धि में हुई।

उल्लेखनीय है कि भ्रष्टाचार से निपटने के लिए प्रभावी जनलोकपाल की मांग को लेकर साल 2011 में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ अन्ना हजारे व प्रशांत भूषण ‘इंडिया अगेंस्ट करप्शन’ फोरम के हिस्सा थे।

Also Read:  क्यों नहीं याद है 3600 करोड़ पानी में बहाने वाली सरकार को आत्महत्या करते किसानों के आंसू

भूषण ने ट्वीट किया, “अन्ना से मिला। उन्होंने कहा कि साल 2015 के लोकपाल विधेयक में कई खामियां हैं। इसे साल 2014 के विधेयक के समान करने की जरूरत है। ऐसा करने के लिए एके (अरविंद केजरीवाल) से कहेंगे। यदि केंद्र सरकार ने इसमें बाधा डाली तो आंदोलन करेंगे।”

Also Read:  पीवी सिंधु, दीपा कर्माकर, साक्षी मलिक और जीतू राय को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार

आप नेता संजय सिंह व कुमार विश्वास ने इससे पहले हजारे से मुलाकात की थी और दावा किया था कि उन्होंने दिल्ली सरकार द्वारा विधानसभा में पेश प्रस्तावित कानून का समर्थन किया।

Also Read:  नीति आयोग के नए उपाध्यक्ष राजीव कुमार के बारे में जानिए खास बातें

हजारे ने सेलेक्शन पैनल व रिमूवल प्रक्रिया में बदलाव करने का सुझाव दिया था, जिसे दिल्ली सरकार द्वारा मानने की संभावना है।

केजरीवाल ने जन लोकपाल विधेयक के समर्थन के लिए मंगलवार को अन्ना हजारे का आभार जताते हुए कहा कि वह सामाजिक कार्यकर्ता द्वारा सुझाए गए प्रस्तावों को निश्चित तौर पर लागू करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here