BHU के विदेशी छात्र ने सीनियर छात्रों पर लगाया मारपीट का आरोप, केस दर्ज

0

बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी (BHU) में पिछले दिनों छात्रा के साथ हुई छेड़छाड़ का मामला अभी पूरी तरह से ठंडा ही नहीं हुआ कि बीएचयू में रहकर पढ़ाई करने वाले एक विदेशी छात्र ने सीनियर छात्रों पर रैगिंग और मारपीट का आरोप लगाया है। मामला थाने तक पहुंच गया गया है और पुलिस आरोपी छात्रों की तलाश में जुट गई है।

BHU
(Express Photo: Anand Singh)

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, फिजी निवासी बीए प्रथम वर्ष के छात्र मुनीष क्रिशल का आरोप है कि 13 अक्टूबर को लालबहादुर शास्त्री छात्रावास के कुछ सीनियर छात्रों ने उसके साथ रैगिंग की और मारपीट की, जिसकी शिकायत उसने प्रॉक्टोरियल बोर्ड और दूतावास में की थी।

इसके बाद शनिवार की शाम को मैत्री छात्रावास के पास उन्हीं छात्रों ने मुनीष को देखा तो उसकी जमकर पिटाई कर दी।शनिवार को अपने साथ हुई घटना के बाद मुनीष ने दोबारा प्रॉक्टोरियल बोर्ड से लिखित शिकायत की, जिसे लंका थाने को भेज दिया। रविवार को लंका थाने में इस मामले में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

ख़बरों के मुताबिक, मुनीष ने कहा कि वो किसी का नाम नहीं जानता लेकिन उसका दावा है कि अगर वो सामने आएं तो उन्हें पहचान लेगा। लंका के क्षेत्राधिकारी संजीव मिश्र ने बताया कि फिजी निवासी मुनीष के साथ 13 अक्टूबर को उसी के फैकल्टी (संकाय) के कुछ छात्रों ने मारपीट की, जिसकी शिकायत उसने प्रॉक्टोरियल बोर्ड से की थी लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।

फिर उन छात्रों ने शनिवार को फिर से इसका पीछा किया तो वह भाग कर हॉस्टल पहुंचा और दोबारा प्रॉक्टोरियल बोर्ड से शिकायत की, जिसे थाने को संर्दिभत किया गया है। संजीव मिश्र ने बताया कि इस मामले में चार अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, पुलिस आरोपी छात्रों की तलाश कर रही है

बता दें कि पिछले दिनों ही बीएचयू में छात्राओं केके साथ हुई छेड़खानी के बाद विश्विद्यालय प्रशासन को छात्र-छात्राओं का भारी आक्रोश झेलना पड़ा था जिसको लेकर काफी विवाद भी हुआ था। कथित छेड़खानी के विरोध में 23 सितंबर की रात कुलपति आवास के पास पहुंचे छात्र और छात्राओं पर विश्वविद्यालय के सुरक्षाकर्मियों और पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें कुछ छात्र घायल हो गए थे। इसका देश भर में भारी विरोध हुआ था।

विश्विद्यालय प्रशासन ने इस पर अपनी संवेदनशीलता दिखाते हुए मुख्य सुरक्षा अधिकारी को निलंबित करके नई महिला सुरक्षा अधिकारी की नियुक्ति की थी। साथ ही छात्र छात्राओं की सुरक्षा को लेकर तमाम इंतजाम करने का दावा किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here