आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारकर की खुदकुशी

0

देश के जाने माने आध्यात्मिक गुरु और सामाजिक कार्यकर्ता भय्यूजी महाराज ने मंगलवार (12 जून) को कथित तौर पर खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक खुद गोली मारने के बाद महाराज को घायल अवस्था में इंदौर के बॉम्बे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई है। इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में उनकी मौत की पुष्टि की है।

फिलहाल घटना के कारण का पता नहीं चल सका है। राष्ट्र संत का दर्जा प्राप्त भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली क्यों मारी, इस बात का खुलासा नहीं हो सका है। घटना की जानकारी मिलते ही बड़ी संख्या में उनके समर्थक अस्पताल के बाहर जमा हो गए हैं। भय्यूजी महाराज को हाईप्रोफाइल संत कहा जाता रहा था।

उनका असली नाम उदय सिंह देशमुख था और वह मध्य प्रदेश के शुजानपुर के जमींदार परिवार से थे। भय्यूजी महाराज उस समय चर्चा में आये थे जब अन्ना आंदोलन के समय उन्होंने सरकार के साथ बातचीत में बड़ी भूमिका निभाई थी। भय्यू जी महाराज के भक्तों में कई नामी-गिरामी की हस्तियां शामिल थीं. वह पहले फैशन डिजाइनर थे बाद में अध्यात्म की ओर मुड़ गए।

फिलहाल अस्पताल में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। भय्यूजी राजनीति में गहरी पैठ रखते थे। हाल ही में शिवराज सरकार ने उन्हें राज्यमंत्री का दर्जा भी दिया था। हालांकि उन्होंने शिवराज सरकार के इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं किया था। उन्होंने कहा था कि संतों के लिए पद का महत्व नहीं होता। उन्होंने कहा था कि हमारे लिए लोगों की सेवा का महत्व है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here