ओड़िशा में पत्नी के शव को कंधे पर ढोने वाले शख्स पर भावुक हुए बहरीन के प्रधानमंत्री, मदद की पेशकश

0

ओड़िशा में अपनी मृत पत्नी को कंधे पर रखकर 12 किमी तक ले जाने वाले दाना मांझी की खबर पढ़ कर बहरीन के प्रधानमंत्री को इतना दुख पहुंचा हैं कि प्रधानमंत्री ने पीड़ित परिवार को मदद की घोषणा कर दी है।

गल्फ डेली न्यूज (GDN) के मुताबिक, “प्रधानमंत्री प्रिंस खलीफा बिन सलमान अल खलीफा ने जब उस शख्स के बारे में पढ़ा जो अस्पताल में पत्नी की मौत हो जाने के बाद एंबुलेंस ना मिलने पर शव को कंधे पर रखकर 12 किमी तक पैदल चला इस खबर को पढ़ कर प्रिंस खलीफा इतने मायूस हुए उन्होंने तुंरत इस दाना मांझी के परिवार को वित्तीय मदद का फैसला लिया।

photo courtesy: jansatta
photo courtesy: jansatta

सोचने की बात ये है कि जिस खबर को सुन कर दूसरे देश के प्रधानमंत्री का दिल भावुक हो रहा है। वहीं ओड़िशा  सरकार क्यों गहरी नींद में सोई हुई है। क्यों ऐसी घटनाओं से सरकार का दिल नहीं पिघलता और कुछ ऐेसे कदम उठांए कि दाना माझी जैसी घटना दोबारा ना हो।

गौरतलब है कि ओड़िशा के कालाहांडी जिले में रहने वाले आदिवासी दाना मांझी को मृत पत्नी को ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिली थी, जिसके बाद दाना ने पत्नी के शव को चटाई और चादर में लपेटा और कंधे पर लेकर 12 साल की बेटी के साथ गांव की ओर चल पड़ा। पत्नी को कंधे पर ले जाते मांझी की तस्वीर और वीडियो मीडिया में आने के बाद इस मामले पर काफी विवाद हुआ।

LEAVE A REPLY