बीफ बैन और शराबबंदी से अर्थव्यवस्था को होगा नुकसान: आदि गोदरेज

0

गोदरेज समूह के अध्यक्ष आदि गोदरेज का मानना है कि गौ मास (बीफ) पर प्रतिबंध और कुछ राज्यों में शराबबंदी से देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंच सकता है।
BL23_P3_ADI_GODREJ_1061320f

आदि गोदरेज का ये बयान ऐसे समय आया है जब आगामी विधान सभा चुनावों के मद्देनजर देश की कुछ राज्य सरकारें गौ मास और शराबबंदी पर कड़ा रुख अपना रही हैं। आदि के मुताबिक ऐसे कदम से अर्थव्यवस्था पर विपरीत असर पड़ सकता है।

Also Read:  रामदेव को दी गई 200 एकड़ जमीन मुख्यमंत्रीे देवेंद्र फडणवीस के लिए बन सकती है गले की हड्डी
Congress advt 2

समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस को दिये इंटरव्यू में आदि गोदरेज ने कहा कि पिछले दो साल में सरकारी नीतियां अच्छी रहीं है। व्यापार करने में मदद मिली है और उन्हे विश्वास है कि भारत विश्व में तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना रहेगा। भारत धीरे-धीरे मजबूत विकसित देश बन जाएगा। आदि ने कहा कि कुछ कारणों से यह विकास प्रभावित हो रहा है। उदारहण के लिए जैसे कुछ राज्यों में बीफ पर प्रतिबंध। इससे निश्चित रूप से खेती और ग्रामीण विकास पर असर पड़ेगा। क्योंकि आप इन सभी अतिरिक्त गायों का क्या करेंगे? उन्होंने कहा कि इससे व्यापार भी प्रभावित होगा क्योंकि यह अनेक किसानों के लिए अच्छी आय का साधन भी है।

Also Read:  "साल 2015 में भारत में सहिष्णुता को चोट पहुंची और धार्मिक स्वतंत्रता के उल्लंघन वाली घटनाओं में इजाफा हुआ"

आदि गोदरेज के मुताबिक वैदिक युग में भारतीय बीफ खाते थे। हमारे धर्म में बीफ खाने की कोई मनाही नहीं है। उन्होंने कहा गौ मास पर बॉम्बे हाईकोर्ट के निर्णय की भी तारीफ की।

Also Read:  PM मोदी का एलान- 'भूपेन हजारिका' होगा देश के सबसे लंबे धौला-सादिया पुल का नाम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here