डोप टेस्ट में फेल हुए यूसुफ पठान, BCCI ने 5 महीने के लिए किया सस्पेंड

0

पिछले काफी दिनों से सक्रिय क्रिकेट से दूर चल रहे ऑलराउंडर यूसुफ पठान की घरेलू क्रिकेट के साथ टीम इंडिया में वापसी की कोशिशों को जोर का झटका लगा है। यह झटका किसी और नहीं बल्कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दिया है। दरअसल यूसुफ पठान पिछले साल हुए डोप टेस्ट में फेल हो गए हैं और बीसीसीआई ने उन्हें पांच महीने के लिए निलंबित कर दिया है।

Photograph: BCCI

हालांकि पांच महीने का यह निलंबन पूर्वप्रभावी निलंबन लगाया गया है जो 14 जनवरी को समाप्त हो जाएगा। बीसीसीआई ने स्वीकार किया कि उन्होंने अनजाने में प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन किया है। बीसीसीआई ने मंगलवार (9 जनवरी) को इस बात का आधिकारिक खुलासा किया कि टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर यूसूफ पठान पिछले साल अक्टूबर के महीने में एक प्रतिबंधित ड्रग्स का सेवन करने के दोषी पाये गए थे।

जिसके चलते बोर्ड ने उन्हें तत्काल क्रिकेट खेलने पर रोक लगा दिया था। वहीं दूसरी तरफ पठान ने अपनी दलील में ये कहा कि कि उन्होंने गलती से और बिना जाने कफ सिरप पीने के दौरान उस ड्रग्स का इस्तेमाल किया और ना कि अपने खेल को बेहतर करने के लिए।

नवभारत टाइम्स के मुताबिक बीसीसीआई ने कहा कि, ‘युसूफ पठान पर डोपिंग उल्लंघन के कारण निलंबन लगाया गया। उन्होंने अनजाने में एक प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन कर लिया जो आमतौर पर सर्दी खासी के सिरप में पाया जाता है। पठान ने पिछले साल 16 मार्च को एक घरेलू टी20 प्रतिस्पर्धा के बाद बीसीसीआई के डोपिंग निरोधक परीक्षण कार्यक्रम के तहत मूत्र का नमूना दिया था।’

बोर्ड ने कहा कि, ‘उनके नमूने की जांच की गई और उसमें टरबूटेलाइन के अंश मिले। यह वाडा के प्रतिबंधित पदार्थों की सूची में आता है। भारत के लिए 57 वनडे और 22 टी20 मैच खेल चुके पठान पर बीसीसीआई के डोपिंग निरोधक नियमों की धारा 2.1 के तहत आरोप लगाया गया और आरोप के निर्धारण तक उन्हें अस्थायी रुप से निलंबित कर दिया गया था।’

बीसीसीआई ने आगे कहा कि, ‘पठान ने आरोप को स्वीकार करते हुए बताया कि यह गलती से उस दवा को लेने के कारण हुआ है जिसमें टरबूटेलाइन मौजूद था। उन्हें गलती से यह दवा दे दी गई, जबकि उन्हें जो नुस्खा दिया गया था, उसमें कोई प्रतिबंधित दवा नहीं थी। बीसीसीआई ने कहा कि वह पठान की सफाई से संतुष्ट है कि यह प्रदर्शन बेहतर करने वाली दवा नहीं थी बल्कि श्वसन संक्रमण के लिए ली गई थी।’

https://twitter.com/iamyusufpathan/status/950647959149977601/photo/1?ref_src=twsrc%5Etfw&ref_url=https%3A%2F%2Fnavbharattimes.indiatimes.com%2Fsports%2Fcricket%2Fcricket-news%2Fyusuf-pathan-found-positive-in-dope-test-bcci-suspends-for-five-months%2Farticleshow%2F62427523.cms

बोर्ड ने कहा कि पठान को पिछले साल 28 अक्टूबर 2017 को अस्थायी रूप से निलंबित किया गया था और बोर्ड ने तय किया है कि उसका निलंबन 15 अगस्त 2017 से प्रभावी होगा और इसकी अवधि 14 जनवरी 2018 तक रहेगी। 14 जनवरी की आधी रात को पठान का निलंबन खत्म हो जाएगी। पठान दूसरे क्रिकेटर हैं, जो कि डोप टेस्ट में फेल हुए हैं। 2013 में दिल्ली के मीडियम पेसर प्रदीप सांगवान डोप टेस्ट में असफल हुए थे। उसके बाद उन्हें 18 महीने का प्रतिबंध झेलना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here