लैब रिपोर्ट ने कहा यह बीफ तो है, लेकिन मांस मोहम्मद अखलाक के घर में नहीं था

0

दादरी हत्याकांड में कल अचानक मोड़ आया जब मथुरा स्थित उत्तर प्रदेश सरकार की फॉरेंसिक लैब की एक रिपोर्ट ने कहा कि जांच में भेजा गया मांस बीफ था।

उत्तर प्रदेश पुलिस के मुखिया जावेद अहमद ने को बताया कि यद्धपि पहली रिपोर्ट ने इसे बकरे का मांस बताया था, मथुरा स्थित लैब अब एक रिपोर्ट में इसे बीफ बता रही है

Also Read:  PM मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में साधुओं ने बलात्कारी बाबा राम रहीम को फांसी देने की मांग की

382344-dadri-killing-family-crying

वहीँ दूसरी और टाइम्स ऑफ़ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि रिपोर्ट में जिस मांस का ज़िक्र किया गया है वह मोहम्मद अखलाक के घर से नहीं पाया गया था।

मथुरी की फारेंसिक लैब ने जिस मांस की जांच की है, वो अखलाक के घर से कुछ दूर स्थित एक जगह से लिया गया था .

Also Read:  नोटबंदी से लोगों में बढ़ती नाराज़गी के बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विमुद्रीकरण पर वरिष्ठ मंत्रियों के साथ की बैठक

उत्तर प्रदेश पुलिस का कहना है कि लैब की रिपोर्ट का हत्या की जांच पर कोई असर नहीं पड़ेगा क्यूंकि इसका मोहम्मद अखलाक की हत्या से कोई सम्बन्ध नहीं है।

नॉएडा स्थित दादरी में हिंदुत्व संघटन से सम्बन्ध रखने वाले चरमपंथियों ने सितम्बर २०१५ में मोहम्मद अखलाक की निर्मम हत्या करदी थी इस हत्या में उनका बीटा भी बुरी तरह ज़ख़्मी हो गया था।

Also Read:  पिछले साल आए 7.8 तीव्रता से भी ज्यादा शक्तिशाली भूकंप काठमांडू को दहला सकता है

अखलाक का बीटा भारतीय वायु सेना में इंजीनियर है।

इस हत्या के अधिकतर आरोपियों का सम्बन्ध स्थानीय भाजपा नेता संजय राणा के परिवार से है।

दादरी हत्याकांड की वजह पुरे विश्व में भारत में धार्मिक आज़ादी और सहिष्णुता पर बड़ा सवाल खड़ा हो गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here