उत्तर प्रदेश: दलित समुदाय से जुड़े लोगों के बाल काटने से मना करने पर नाई के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज, सबूत के लिए बनाया गया वीडियो

0

उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में दलित समुदाय से जुड़े लोगों के बाल काटने से मना करने पर एक नाई के खिलाफ एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया है। फिलहाल नाई फरार चल रहा है।

उत्तर प्रदेश

यह मामला तब सामने आया जब एक वीडियो क्लिप वायरल हुई जिसमें नाई ने एक दलित युवक को उसकी जाति के लिए दुकान से चले जाने को कहा। बदायूं के करियामई गांव में नाई को यह कहते हुए सुना गया कि वह अपनी दुकान बंद करना पसंद करेगा, न कि दलित जाति के युवाओं के बाल काटना।

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, बिल्सी सर्कल अधिकारी (सीओ) अनिरुद्ध सिंह ने कहा, स्थानीय लोगों से बात करने के बाद, हमें पता चला कि नाई दलित समुदाय से संबंधित ग्राहकों को चले जाने को कहता था। यह स्वीकार्य नहीं है। नाई अब फरार हो गया है।

इस घटना का वीडियो बनाने वाले बबलू ने कहा कि जब उसने सुना कि नाई दलितों का अपमान करता है तो उसने सबूत के लिए उसका वीडियो बना लिया। नाई पिछले 15 वर्षों से अपनी दुकान चला रहा है और बबलू के अनुसार, किसी भी दलित ग्राहक का बाल काटने से हमेशा इनकार करता है।

सर्कल अधिकारी ने कहा कि वीडियो क्लिप एक महत्वपूर्ण सबूत है और इसे फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है। उन्होंने कहा कि आरोपी फरार हो गया है, लेकिन हम उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here