बैंक ने गलती से सेविंग अकाउंट में डाले 3.4 मिलियन डॉलर, जिसको मिले उसने भी खर्च डाले

0

ऑस्ट्रेलियाई पुलिस ने 21 वर्षीय महिला पर धोखेबाजी का आरोप लगाया है। उसने बैंक की ओर से गलती से दिए गए 3.4 मिलियन डॉलर को खर्च कर दिया। सिडनी मीडिया के अनुसार, आस्ट्रेलियाई बैंक की ओर से सेविंग अकाउंट में अधिक रकम आने के बाद मलेशियाई इंजिनियरिंग छात्रा क्रिस्टीन जियाग्जीन ली ने बिना बैंक को इस बात की सूचना दिए ही खर्च कर दिए।

One-hundred-dollar notes are placed on a desk for counting in Seoul April 7, 2009.   REUTERS/Jo Yong-Hak
One-hundred-dollar notes are placed on a desk for counting in Seoul April 7, 2009. REUTERS/Jo Yong-Hak

उसने ढेर सारे डिजायनर बैग व अन्य कीमती सामानों को खरीद लिया। बुधवार को 21 वर्षीया मलेशियाई युवती को आस्ट्रेलिया में गिरफ्तार कर लिया गया, उसपर 4.6 मिलियन डॉलर को खर्च करने का आरोप है जो बैंक ने गलती से उसके सेविंग अकाउंट में डाला।

Also Read:  भारतीय वायुसेना का सुखोई-30 विमान लापता, तेजपुर से भरी थी उड़ान, सर्च ऑपरेशन जारी

आस्ट्रेलिया की अदालत में ली पर बेइमानी से पैसे लेकर फायदा उठाने का आरोप लगाया गया है। गौर करने वाली बात है कि ली के अकाउंट में वेस्टपैक बैंक ने दुर्घटनावश काफी अधिक कैश का क्रेडिट किया था। केमिकल इंजिनियरिंग छात्रा ली ऑस्ट्रेलिया में पिछले पांच वर्षों से रह रही है। उसने इस पैसे को शॉपिंग में खर्च किया महंगे हैंडबैग्स और जूते खरीदे। अदालत में मजिस्ट्रेट लीजा स्टेपलटन से सवाल किया गया कि क्या ली ने कानून को तोड़ा है, क्योंकि जो पैसे उसे मिले वह टेक्निकली दिए गए और उसने इसका फायदा उठाया।

Also Read:  ‘एक्सचेंज फॉर चेंज’ कार्यक्रम के तहत भारत आने वाले पाकिस्तान के 60 छात्रों का भारत दौरा रद्द

लीजा ने कहा, ली ने पैसे नहीं लिए। उसे यह दिया गया। यदि यह केस तो जो पैसे उसने खर्च किए वो बैंक को चुकाना होगा। कोर्ट ने कहा कि इस मामले में इंवेस्टीगेशन 2012 में शुरू हो गयी थी लेकिन गिरफ्तारी वारंट इस वर्ष 4 मार्च को जारी हुआ। रिपोर्ट के अनुसार, ली ने यह पैसे जुलाई 2014 से अप्रैल 2015 के बीच खर्च किए। ली जमानत पर रिहा हो गयी है। केस की अगली सुनवाई 21 जून को होगी।

Also Read:  डोनाल्ड ट्रंप की टिप्पणियों पर बरसे ओबामा, बोले-ट्रंप को सत्ता सौंपने का जोखिम उठा सकते हैं हम?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here