आगरा में VHP और बजरंग दल की गुंडागर्दी, आरोपियों को छुड़ाने के लिए पुलिस स्टेशन पर किया हमला, फूंकी गाड़ियां

0

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नए डीजीपी सुलखान सिंह की लाख नसीहत के बावजूद राज्य के हिंदूवादी संगठन से जुड़े उपद्रवियों को समझ नहीं आ रही। इसी का नतीजा है कि भगवा ब्रिगेड का उपद्रव थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसकी एक नजीर शनिवार(22 अप्रैल) को आगरा में देखने को मिली। जहां विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। प्रदर्शनकारियों के हौसले इस कदर बुलंद थे कि उन्होंने कुछ पुलिसवालों पर भी हमला कर दिया। इस मामले में पुलिस ने बजरंग दल के पांच कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया है।

फोटो: ABP NEWS

ABP न्यूज के मुताबिक, शनिवार(22 अप्रैल) को बीती रात ताज नगरी आगरा में हिंदूवादी संगठन विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के उपद्रवियों ने कानून को अपने हाथ में लेते हुए पुलिस पर ही हमला बोल दिया। पुलिस ने भी मोर्चा संभाल लिया। दोनों ओर से तकरीबन आधे घंटे तक ईंट-पत्थर फेंके गए। इस दौरान कई लोगों को चोटें आईं। उपद्रवियों ने संतोष कुमार नाम के एक पुलिस अफसर की बाइक में आग लगा दी और उसकी सर्विस रिवॉल्वर भी छीन ली।

दरअसल, पुलिस ने हिंदूवादी संगठनों से जुड़े पांच लोगों को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार किए गए इन कार्यकर्ताओं को पुलिस जब आगरा सदर थाने लेकर पहुंची तो इन लोगों को छुड़ाने के लिए उपद्रवियों ने हंगामा करते हुए पुलिस स्टेशन पर हमला कर दिया। ये उपद्रवी पुलिस पर कार्यकर्ताओं को छोड़ने का दबाव बना रहे थे। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने उनपर लाठीचार्ज किया तो उन लोगों ने पुलिस की एक जीप में आग लगा दी।

इतना ही नहीं, खबरों के मुताबिक उपद्रवियों ने कुछ पुलिसवालों के साथ खींचतान भी की। आरोप है कि VHP के प्रांत विद्यार्थी प्रमुख जगमोहन चाहर ने सीओ को थप्पड़ तक जड़ दिया। जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। दोनों ओर से तकरीबन आधे घंटे तक पथराव होता रहा। हिंसा में कई लोगों को चोटें आई हैं। खबरों के मुताकिक, पुलिस ने मौके से कुछ आंदोलनकारियों को हिरासत में ले लिया है।

आगरा सिटी के सहायक पुलिस अधीक्षक घुले सुशील चंद्रभान ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि थाने में फतहपुर सीकरी के विधायक उदयभान सिंह और उनके समर्थक प्रदर्शन करने पहुंचे थे। जैसे ही वे लोग वहां से निकले उसके बाद यह घटना हुई।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जिन पांच लोगों को छुड़ाने के लिए हिंदू संगठनों ने पुलिस स्टेशन पर हमला किया था उन पांचों पर आपसी रंजिश में एक मुस्लिम लड़के पर हमले का आरोप है। पीड़ित मुस्लिम युवक की शिकायत के बाद पुलिस ने पांचो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस गिरफ्तारी से नाराज विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल के लोगों ने फतेहपुर सीकरी पुलिस स्टेशन में धरना प्रदर्शन करते हुए जमकर उत्पात मचाया।

Also Read:  नोटबंदी से लोगों का मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित, मनोचिकित्सक के अनुसार, मानसिक तनाव के मरीज़ो की संख्या बढ़ी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here