शक की वजह से पति ने बजरंग दल कार्यकर्ताओं की मदद लेकर पत्नी के मुस्लिम मित्र को जमकर पिटवाया

0

भोपाल के अवध पुरी इलाके में एक 40 वर्षीय पंकज गुलाटी नाम के व्यक्ति ने अपनी पत्नी पर उसके ऑफिस में काम करने वाले सहयोगी के साथ संबंध के शक में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को फोन कर उसकी शादी बचाने के लिए मदद मांगी जिसके चलते बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने बंदूक की नोक पर पत्नी को बुरी तरह पीटा।

पंकज गुलाटी ने आरोप लगाया की उसकी पत्नी रेणु गुलाटी का उसके सहयोगी मोहम्मद अख्तर के साथ अफेयर चल रहा है और वो जल्द ही उसे छोड़ देगी।

बजरंग दल

रेणु गुलाटी और अख्तर भोपाल में भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड में साथ काम करते हैं, रेणु गुलाटी का पति रिएल स्टेट ऐजेंट है। पंकज और रेणु ने 15 साल पहले प्रेम विवाह किया था। दोनों की एक 10 साल की बेटी है।
पड़ोसियों के अनुसार रेणु का पति बहुत शराब पीता है और शराब पीकर अक्सर मारपीट करता रहता है।

रविवार दोपहर पंकज गुलाटी ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को फोन करा और उनसे अपनी शादी बचाने की मांग की और अख्तर को रेणु का कथित प्रेमी बताकर इसे लव जेहाद का रंग देने की कोशिश की।

दोपहर करीब 1 बजे बजरंग दल के 30-35 लोग आए पहले आते ही उन्होंने रेणु गुलाटी से मारपीट की फिर बंदूक की नोक पर अख्तर को फोन करने को कहा डरी-सहमी रेणु ने फोन कर अख्तर को अपने घर बुलाया। अख्तर के वहां पहुंचते ही बजरंग दल के लोगों ने उसे जमकर पीटना शुरु कर दिया ।

ये सब देखकर पड़ोसी ने पुलिस को फोन किया लेकिन पुलिस को वहां पहुंचने में ही 30 मिनट लगे पुलिस के घटनास्थल पर पहुंचने से पहले ही बजरंग दल के कार्यकर्ता मौके से फरार हो गए।
पुलिस बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को ले जाने के बजाय पुलिस स्टेशन में रेणु गुलाटी को ले गई और पूरी रात उसे थाने में बैठाए रखा।

पुलिस स्टेशन में रेणु से अख्तर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने का दबाव बनाया गया, लेकिन रेणु ने ऐसा करने से बिल्कुल मना कर दिया।
पुलिस थाने में पंकज ने स्वीकार कर लिया कि उसने बजरंग दल को मदद के लिए बुलाया था। उसने कहा.”हाँ मैंने उन्हें अपनी शादी बचाने के लिए बुलाया था क्योकि मेरी पत्नी मुझे अख्तर की वजह से धोखा देने के चक्कर में थी।

इंडिया टुडे की खबर के अनुसार, रेणु और अख्तर दोनों ने किसी भी तरह के संबंध से इनकार किया है। अख्तर ने कहा, “उसने मुझे परेशानी में कॉल की और क्योंकि वो मेरी सहयोगी है मैं उसकी मदद करने के लिए चला गया।

पुलिस ने इन तीनों का एक लिखित बयान ले लिया है। लेकिन बजरंग दल के गुंडों के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया है।
इस घटना के बाद रेणु ने स्पष्ट कर दिया कि वह अपने पति के साथ नही रहेगी।बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने उसे और अख्तर को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here