गाय के नाम पर देश में नफरत फैलाने वाले लोगों के राज में बीफ का निर्यात बेतहाशा बढ़ा : आज़म ख़ां

0

उत्तर प्रदेश के नगर विकास, अल्पसंख्यक कल्याण एवं हज मंत्री मोहम्मद आजम खां ने शुक्रवार (16 सितंबर) को यहां कहा कि गौवध का विरोध करने वाली भाजपा की सरकार के ढाई साल के कार्यकाल में गौमांस का निर्यात ढाई गुना तक बढ़ गया है।

भाषा की खबर के अनुसार, आजम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि गाय के नाम पर देश में नफरत फैलाने वाले लोगों के राज में ही विदेशों में बीफ का निर्यात बेतहाशा बढ़ा है। इसलिए इन लोगों से पूछा जाना चाहिए कि जब वे गौवध पर रोक लगा रहे हैं तो इतनी अधिक मात्रा में गौमांस का निर्यात कैसे बढ़ गया।

Also Read:  गृह मंत्रालय ने किया स्पष्ट, तोंद वाले पुलिसकर्मियों को नहीं मिलेगा मेडल

उन्होंने कहा, ‘विपक्ष में रहते हुए एक समय यही लोग तत्कालीन सरकार पर पाकिस्तान के साथ ‘हनीमून’ मनाने और ‘लव लैटर’ देने का आरोप लगाते नहीं थकते थे, लेकिन अब सवा सौ करोड़ हिन्दुस्तानियों का बादशाह (प्रधानमंत्री) पाकिस्तान जाकर वहां के प्रधानमंत्री की सालगिरह में शामिल होता है और उसकी मां के लिए कश्मीरी शाल भेंट करता है। यह पूरे देश की जनता का अपमान है।’

Also Read:  बाथरूम में पार्टनर के सामने न्यूड होने से आप को मिल सकता है ये बड़ा फायदा!

आजम ने कहा, ‘गंगा नदी, चांद, सितारे ये सब अल्लाह की पहचान हैं। जो अल्लाह की निशानी है, उससे भला कोई कैसे नफरत कर सकता है। जो लोग हमारी गंगा से लड़ाई की बात करते हैं, वही देश में सबसे ज्यादा नफरत फैलाते हैं।’ उन्होंने भाजपा के चुनावी वादे याद दिलाते हुए कहा कि न तो लोगों के खाते में 20-20 लाख रुपए आए और न ही 2 करोड़ युवाओं को रोजगार मिला।

Also Read:  RSS समर्थक पत्रिका ने करण जौहर पर लगाया 'सुविधानुसार देशभक्त' होने का आरोप

देश में 24 घण्टे बिजली देने का वादा भी पूरा नहीं हुआ। यह सब जनता के साथ धोखा है। वह यहां गोवर्धन गौशाला का लोकार्पण करने के लिए आए थे। यह गौशाला स्वामी अधोक्षजानन्द द्वारा समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद चौ. मुनव्वर सलीम तथा डॉ. तंजीम फातिमा द्वारा सांसद क्षेत्रीय विकास निधि की मदद से स्थापित की गई है। इससे पूर्व आजम खां अपने बारे में स्वामी अधोक्षजानन्द के विचारों से प्रसन्न होकर उनको अपनी प्रिय गाय भेंट कर चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here