उन्नाव: रेप के आरोपी BJP विधायक कुलदीप सिंह सेंगर का भाई अतुल गिरफ्तार, पीड़िता के पिता की पुलिस कस्टडी में हुई थी मौत

0

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रेप के आरोप में फंसे भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। दुष्कर्म पीड़िता के पिता से मारपीट करने के आरोप में उसे गिरफ्तार किया गया है। बताया जा रहा है कि अतुल की गिरफ्तारी क्राइम ब्रांच ने की है और अब पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। रिपोर्ट के मुताबिक यूपी पुलिस ने यह कार्रवाई डीजीपी के आदेश के बाद की है।

PHOTO: ABP

डीजीपी का कहना है कि यूपी पुलिस ने कोई लापरवाही नहीं की है। जो भी दोषी सामने आएंगे, उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि उन्नाव के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की सोमवार तड़के जेल में संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी। पीड़ित परिवार ने विधायक और उसके भाई पर मारपीट का आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी पिटाई से ही पिता की मौत हुई है। अचानक जेल में उनकी मौत हो जाने से मामले ने तूल पकड़ लिया।

जिसके बाद इस मामले में योगी सरकार ने कार्रवाई करते हुए पिता की पिटाई करने के आरोपी चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही माखी थाने के इंस्पेक्टर समेत छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया। वहीं, दुष्कर्म के आरोप से घिरे उन्नाव के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने सोमवार देर शाम मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से राजधानी में मुलाकात की। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि यह उनके खिलाफ साजिश है।

गौरतलब है कि महिला ने उन्नाव जिले की बांगरमऊ विधानसभा सीट से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। पीड़ित महिला का आरोप है कि पिछले साल बीजेपी विधायक ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसका रेप किया था। वह न्याय मांगने पुलिस, प्रशासन और शासन हर जगह गई लेकिन उसकी किसी ने नहीं सुनी। पीड़िता ने कहा कि अगर सभी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो वह जान दे देगी।

पीड़िता ने रविवार को मीडिया से बताया था, ‘मेरे साथ बीजेपी विधायक ने अपने साथियों संग मिलकर रेप किया। मैंने हर दरवाजा खटखटाया, हर किसी से मदद मांगी मगर किसी ने मेरी नहीं सुनी। उन सभी को गिरफ्तार किया जाए, नहीं तो मैं अपनी जान दे दूंगी।’ महिला ने कहा कि, ‘मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास भी गई थी, मगर कोई सहायता नहीं मिली। हमने जब एफआईआर दर्ज करवानी चाही तो हमें धमकियां मिलने लगीं।’ महिला और उसका परिवार उन्नाव का रहने वाला है।

युवती ने रविवार को विधायक पर रेप का आरोप लगाते हुए लखनऊ में सीएम आवास के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया था। लखनऊ में रविवार (8 अप्रैल) को पीड़िता और उसके परिवार ने मुख्यमंत्री (योगी आदित्यनाथ) आवास के बाहर खुदकुशी करने की कोशिश की थी। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिस ने महिला और उसके परिवार को ऐसा करने से रोक लिया था।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here