जानिये क्यों शाहरुख़ खान ने बताया अटल बिहारी वाजपेयी को ‘बापजी,’ इमोशनल पोस्ट में शेयर की अपनी यादें

1

वृहस्पतिवार को दिल्ली के AIIMS में पूर्व प्रधामंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का निधन हो गया। उनकी मौत की खबर की पुष्टि होते ही राजीनीतिक पार्टियों के नेताओं द्वारा श्रद्धांजलि का तांता लग गया। सोनिया गाँधी से लेकर मनमोहन सिंह, सभों ने दिवंगत नेता को भावभीनी श्रद्धांजलि पेश करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

अटल बिहारी वाजपेयी

इसी क्रम में सबसे मार्मिक श्रद्धांजलि बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख़ खान ने दी जब उन्होंने ट्विटर पर वाजपेयी से जुडी कुछ ख़ास यादें साझा कीं। उन्होंने कहा कि जब वो बच्चे थे तो उनके पिताजी उन्हें वाजपेयी के भाषणों को सुनाने ले जाय करते थे।

शाहरुख़ ने आगे बताया की प्यार से लोग वाजपेयी को घर में बापजी बुलाया करते थे। जब वो बॉलीवुड स्टार बन गए तो उन्हें वाजपेयी के साथ समय बिताने के अनगिनत अवसर प्राप्त हुए। इन मुलाक़ातों में दोनों अक्सर कविता और अपने अपने घुटनों की तकलीफ शेयर करते थे।

शाहरुख़ ने लिखा की ‘बापजी’ की अकस्मात् मौत ने उनके बचपन की यादों का एक अहम् अद्ध्याय छीन लिया है क्यूंकि वाजपेयी का उनके बचपन पर गहरा असर था।

“आज देश ने पिता सामान नेता खो दिया है और मैं अपने आपको बहुत भाग्यशाली मानता हूँ कि मेरे बचपन पर उनके जीवन की गहरी छाप रही है ,” शाहरुख़ ने आगे लिखा।

दूसरी और वाजपेयी को श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिआ गाँधी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद नाम ख़ास रहे हैं।

बता दें कि भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री के रूप में तीन बार देश का नेतृत्व किया है। वे पहली बार साल 1996 में 16 मई से 1 जून तक, 19 मार्च 1998 से 26 अप्रैल 1999 तक और फिर 13 अक्टूबर 1999 से 22 मई 2004 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं।

1 COMMENT

  1. उ.प्र.में योगी जी के कुशल निर्देशन में प्रदेश में लक्ष्य के सापेक्ष रोपे गये अधिक पौधे!
    विशेष वृक्षारोपण अभियान चला कर हुआ 9.51 करोड़ पौधों का रोपण! सोनभद्र से शिशु मानव की रिपोर्ट!

    सोनभद्र! प्रदेश सरकार का विशेष वृक्षारोपण अभियान  हुआ शत प्रतिशत सफल! लक्ष्य से अधिक 9.51 करोड़ पौधे रोपित करके तोड़े पिछले रिकार्ड! योगी जी की प्रकृति प्रेमी छवि और कुशल प्रशासनिक नियंत्रण में इस बार उत्सव जैसे माहौल में सरकारी विभाग अर्ध सरकारी संस्थान नगर निकाय ग्राम पंचायत शिक्षा संस्थानों वन विभाग आदि द्वारा खेत खाली पड़ी जमीनों पर प्रदेश वासियों ने पूरे उत्साह से किया वृक्षारोपण! लोगों में वृक्षारोपण के प्रति ऐसा गजब का उत्साह पहले नहीं देखा गया था!
    खास बात ये कि इस बार ये प्रदेश में हरियाली ला कर पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त रखने वाला वृक्षारोपण कार्यक्रम कागजों में न सिमट कर वास्तविक धरातल पर दूर दूर तक फैला नजर आया! प्रदेश की धरती को हरियाली की चादर से ढकने की योगी सरकार की यह कोशिश कामयाब रही! न सिर्फ 9 करोड़ का लक्ष्य पूरा हुआ बल्कि लक्ष्य के सापेक्ष पूरे 0.9.51 करोड़ पौध रोपण कर के तोड़ा वृक्षारोपण का पिछला रिकार्ड!
    इस सफलता से शासन व वन विभाग के अभियान से जुड़ी अधिकारियों कर्मचारियों की पूरी टीम उत्साहित व गदगद है! लोगों में वृक्षारोपण के प्रति पहले से कहीं अधिक उत्साह जगा है और लोगों ने प्रतिवर्ष पौध रोपण करने का संकल्प भी लिया है!
    योगी सरकार का आकर्षक श्लोगन *चलो प्रदूषण से आजादी की ओर*
    और *सेल्फी विद् ग्रीन यूपी* काफी कारगर व असरदार रहा! इस सेल्फी विद् ग्रीन यूपी अभियान से लाखों लोग जुड़े!
    लोगों ने पौध रोपण करते समय की लाखों सेल्फी भेजी हैं!
    प्रदेश में पहली बार विशेष वृक्षारोपण कार्यक्रम औपचारिता छोड़ जमीन पर दौड़ता नजर आया लोग इसे एक होड़ समझ कर पौध हाथों में थामे  हरितमा की ओर बढ़ते दिखे! जिलाधिकारी
    व वन विभाग के सोनभद्र ओबरा वन प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारियों सहित रेनुकूट प्रभाग के प्रभागीय वनाधिकारी एम पी सिंह आदि सभी ने सफलता का सारा श्रेय जिले मंडल से लगायत शासन व वन निदेशालय प्रधान मुख्य वन संरक्षक कार्यालय से जुड़ी पूरी टीम को दिया है! एम पी सिंह जी ने खास तौर पर मंडल मीरजापुर में तैनात ईमानदार एवम कर्मठ मुख्य वन संरक्षक श्री प्रभाकर दुबे जी की काफी सराहना की है! 

                           

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here