उत्तर प्रदेश: आईआईटी कानपुर के असिस्टेंट प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यन ने की खुदकुशी

1

उत्तर प्रदेश के कानपुर में स्थित इंडियन इन्स्टिट्यूट (आईआईटी-कानपुर) के कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग विभाग में एक सहायक प्रोफेसर प्रमोद सुब्रमण्यन संस्थान के परिसर में मृत पाए गए। प्रोफेसर(35) का शव बुधवार को परिसर में एक कमरे में लटका मिला। महामारी के कारण हुए लॉकडाउन से परिसर सुनसान था। फिलहाल, इस बारे में कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है कि प्रफेसर सुब्रमण्यन ने ऐसा कदम क्यों उठाया।

उत्तर प्रदेश

जानकारी के मुताबिक, सुब्रमण्यन ने नायलॉन की रस्सी से अपने सरकारी आवास में पंखे से लटककर आत्महत्या की। सरकारी आवास में पत्नी और बच्चों के साथ रहते थे प्रमोद सुब्रमण्यन। बताया गया है कि दोपहर डेढ़ बजे के आसपास उन्होंने अपने कुछ सहयोगियों से बात भी की थी। कल्याणपुर के स्टेशन हाउस ऑफिसर (एसएचओ) अभय सेठ ने कहा कि मौत के कारण का अभी पता नहीं चल सका है।

आईआईटी-कानपुर संस्थान के निदेशक प्रो अभय करंदीकर ने एक बयान जारी कर कहा, मुझे कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग विभाग में सहायक प्रोफेसर प्रो. प्रमोद सुब्रमण्यन के दुखद और असामयिक निधन के बारे में सूचित करते हुए दुख हो रहा है। उन्होंने आगे कहा, उनके साथ हमने देश के कंप्यूटर विज्ञान में एक उज्‍जवल और उभरते हुए सितारे को खो दिया है। हम गहरा दुख व्यक्त करते हैं और सर्वशक्तिमान से प्रार्थना करते हैं कि वह उनके परिवार को शक्ति प्रदान करें। उनकी आत्मा को शांति मिले।

पुलिस अधिकारी ने आगे कहा, उनके गले में एक नायलॉन की रस्सी थी, जिससे वह लटके पाए गए थे और किसी भी तरह का सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। हम पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं और जांच जारी रखेंगे। कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के कारण कैंपस लगभग खाली ही है, वहीं संकाय सदस्यों को छोड़कर वहां कोई भी छात्र मौजूद नहीं है। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here