पाकिस्तान: प्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता आसमा जहांगीर का निधन

0

पाकिस्तान की प्रसिद्ध वकील और जानीमानी मानवाधिकार कार्यकर्ता आसमा जहांगीर का निधन हो गया है। लाहौर में रविवार (11 फरवरी) को उनका इंतकाल हुआ। आसमा 66 साल की थीं। आपको बता दें कि पाकिस्तान में सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन की पूर्व अध्यक्षा आसमा जहांगीर ह्यूमन राइट्स ऑफ कमीशन की सह संस्थापक थीं।

बीबीसी से बात करते हुए मुंजे जहांगीर ने अपनी मां की मृत्यु की पुष्टि की है। उनका कहना था कि वे इस वक्त देश से बाहर हैं और उनके भाई ने उन्हें इस खबर के बारे में बताया। रिपोर्टों के मुताबिक़ आसमा जहांगीर की तबियत रविवार को ही अचानक खराब हुई, जिसकी वजह से उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

बीबीसी के मुताबिक, आसमा जहांगीर का जन्म 27 जनवरी 1952 को लाहौर में हुआ था। मानवाधिकार आयोग की पूर्व प्रमुख आसमा जहांगीर पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन की अध्यक्ष चुनी जाने वालीं पहली महिला वकील थीं। पाकिस्तान की न्यायपालिका में सुधार की दिशा में आसमा जहांगीर ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

आसमा हाशिए पर रहने वाले लोगों के केस लड़ने के लिए मशहूर थीं। उन्होंने पाकिस्तान की जियाउल हक तानाशाही सरकार के खिलाफ आवाज उठाई थी। इसके अलावा आसमा संयुक्त राष्ट्र के लिए बतौर ह्यूमन राइट्स जर्नलिस्ट्स काम करती थी। पाकिस्तान के चीफ जस्टिस साकिब निसार और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी, राष्ट्रपति ममनून हुसैन सहित तमाम हस्तियों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here