दिल्ली: …जब सीएम केजरीवाल ने भरी सभा में फाड़ दी एलजी कमेटी की रिपोर्ट, वीडियो वायरल

1

राजधानी दिल्ली में सीसीटीवी कैमरे लगाने को लेकर सुझाव देने के लिए उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल द्वारा गठित कमेटी की रिपोर्ट रविवार (29 जुलाई) को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने फाड़ दी। इस बाबत इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सीसीटीवी कैमरा लगाने के लिए पुलिस के लाइसेंस की अनिवार्यता को लेकर एलजी पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने जमकर हमला बोला।

उन्होंने कहा कि लाइसेंस का मतलब ‘पैसा चढ़ाओ, लाइसेंस ले जाओ’ है। इतना कहने के बाद उन्होंने एलजी कमिटी की रिपोर्ट फाड़ दी। दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में सीसीटीवी के मुद्दे पर सभी रेजिडेंट वेलफेयर सोसाइटी के साथ हो रही बैठक को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने पहले जनता से पूछा ”तो इस रिपोर्ट का क्या करें?” जनता से आवाज आई ‘फाड़ दो’।

इसके बाद केजरीवाल ने कहा ”जनता की मांग है कि इस रिपोर्ट को फाड़ दो तो जनता जनार्दन है लोकतंत्र है’ और ये कहते हुए केजरीवाल ने करीब 10 हजार की जनता के बीच वो रिपोर्ट फाड़ दी। उन्होंने कहा, ‘एलजी कमिटी के सदस्य पुलिसकर्मी है, इनकी रिपोर्ट कहती है कि अगर दिल्ली में कोई सीसीटीवी कैमरा लगाएगा, चाहे वह अपने पैसे से ही क्यों न लगाए, उन्हें पुलिस से लाइसेंस लेना होगा। लाइसेंस का मतलब पैसा चढ़ाओ, लाइसेंस ले जाओ।’

इसके बाद सीएम ने कहा कि जनता की मर्जी है कि रिपोर्ट फाड़ दो, जनता जनार्दन है जनतंत्र में। और इतना कहते ही उन्होंने एलजी कमिटी की रिपोर्ट फाड़ दी। उन्होंने उपराज्यपाल द्वारा गठित कमेटी की रिपोर्ट फाड़ते हुए दावा किया कि सोमवार को सबसे पहले वह 1.40 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने की फाइल पास करेंगे। इसके बाद सीसीटीवी लगाने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सीसीटीवी पर एलजी की रिपोर्ट गलत है। रिपोर्ट में कहा गया है कि घर, दुकान, कंपनी, मार्केट आदि में सीसीटीवी लगाने के लिए दिल्ली पुलिस उपायुक्त (लाइसेंसिंग) से अनुमति लेनी होगी। बता दें कि केजरीवाल ने लाइसेंस को लेकर पहले भी अपना विरोध दर्ज कराया था और दावा किया था कि इससे सिर्फ रिश्वतखोरी को बढ़ावा मिलेगा।

 

1 COMMENT

  1. जनता की मांग निश्चित ही सर्वोपरि है. फिर भी नहीं पता कि केजरीवाल जी ने ठीक किया या गलत मगर एक बात निश्चित है कि उपराज्यपाल अपनी खिल्ली ज़रूर उड़वा रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here