मेलानिया ट्रंप के सरकारी स्कूल के दौरे से अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया का नाम बाहर; शशि थरूर ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, BJP प्रवक्ता संबित पात्रा ने दी सफाई

0

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप के सरकारी स्कूल के दौरे से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का नाम हटाए जाने के बाद यह मामला तूल पकड़ चुका है। इस बीच, इस मामले को लेकर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने भी ट्वीट कर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। वहीं, इस मामले पर भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने सफाई भी दी है।

मेलानिया ट्रंप के कार्यक्रम से अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया का नाम हटाए जाने की ख़बर को शेयर करते हुए कांग्रेस नेता शशि थरूर ने ट्वीट कर लिखा, “इस तरह की छोटी राजनीति कि लोगों को चुनकर न्योता दिया जाए मोदी सरकार कर रही है। यह लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं। राष्ट्रपति भवन के भोज, पीएम मोदी के कार्यक्रम में विपक्ष को न्योता न देना भले छोटी बात लग सकती है, लेकिन यह भारत की छवि को कमजोर करता है।”

वहीं, भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि भारत सरकार अमेरिका को सलाह नहीं दे सकती है कि कार्यक्रम में किसे बुलाया जाए और किसे नहीं। इसलिए इस मुद्दे पर राजनीति करने की जरूरत नहीं हैं। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, संबित पात्रा ने मेलानिया ट्रंप के सरकारी स्कूल के दौरे से सीएम और डिप्टी सीएम का नाम हटाए जाने पर कहा कि, “ऐसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर तुच्छ राजनीति नहीं होनी चाहिए। भारत सरकार ने अमेरिका को सलाह नहीं दी है कि किसे बुलाना है और किसे नहीं। इसलिए हम इस मुद्दे पर ‘तू तू मैं मैं’ नहीं चाहते हैं।”

समाचार एजेंसी ANI ने दिल्ली सरकार के सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया के नाम उस स्कूल के कार्यक्रम से हटा दिए गए हैं, जिस स्कूल का मेलानिया ट्रम्प दौरा करेंगी।सूत्रों का दावा है कि दिल्ली सरकार के अधीन आने वाले स्कूल में दोनों ही नेताओं का शामिल होने का कार्यक्रम था, लेकिन नाम हटाया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली सरकार में ऐसी चर्चा है कि यह मोदी सरकार के कहने पर हुआ है। हालांकि, केंद्र सरकार का कहना है कि नाम शामिल करवाने या हटवाने में उनका कोई रोल ही नहीं है। इस घटना पर आप सरकार की तरफ से साफ तौर पर कोई बयान नहीं आया है। लेकिन मनीष सिसोदिया ने हैप्पीनेस क्लास पर ट्वीट जरूर किया। उन्होंने लिखा, ‘हैप्पीनेस क्लास हर तरह की नफरत और छोटी मानसिकता का समाधान है।’ बता दें कि, मिलेनिया ट्रंप 25 फरवरी को दक्षिणी दिल्ली के सरकारी स्कूल में ‘हैपीनेस क्लास’ देखने जाएंगी।

बता दें कि, आप सरकार की ओर से तैयार किए ‘मॉडल स्कूल’ में मिलेनिया को ले जाने का कार्यक्रम तय हुआ है और जिसकी तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। बता दें कि, केजरीवाल सरकार ने 2018 में हैपीनेस क्लास की शुरुआत की थी जिसके जरिए छात्र-छात्राओं के मानसिक तनाव को दूर करने का प्रयास किया जाता है। सरकार के इस माडल को काफी सराहाना मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here