केरल: हिंसा में मारे गए RSS कार्यकर्ता के पीड़ित परिजनों से मिले अरुण जेटली

0

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने केरल में राजनीतिक हिंसा का शिकार बनने के कारण मारे गए आरएसएस कार्यकर्ता राजेश के परिजन से उनके श्रीकार्यम स्थित आवास पर मुलाकात की। इस दौरान जेटली ने राजेश के तीन साल के बेटे और बूढ़े मां-बाप से बात की।

@arunjaitley

ऐसा माना जा रहा है कि जेटली की यह यात्रा माकपा के कार्यकर्ताओं द्वारा कथित तौर बढ़ाए जा रहे हमलों के मुद्दे को राष्ट्रीय फोकस में लाने के लिए भाजपा की ओर से किया गया प्रयास है। केंद्रीय वित्त मंत्री के साथ प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष कुम्मानम राजशेखरन समेत प्रदेश भाजपा के नेता थे।

इन्होंने राजेश की विधवा (34) समेत उसके परिवार वालों की ओर से जताई गई चिंता जेटली के सामने रखी। बता दें कि एक कथित हिस्ट्रीशीटर के नेतृत्व वाले एक गिरोह ने 29 जुलाई को राजेश की हत्या कर दी थी। भाजपा ने आरोप लगाया है कि इस हत्या के पीछे माकपा के कार्यकर्ता हैं। हालांकि, सााधारी दल ने इस आरोप से इनकार किया है।

भाजपा के सदस्यों ने राज्य में राजनीतिक हिंसा का मुद्दा संसद में उठाते हुए कहा था कि केरल हत्याओं का मैदान बन गया है। इससे पहले जेटली राजनीतिक स्थिति का आकलन करने के लिए विशेष विमान से यहां पहुंचे थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार, वह केंद्र सरकार को एक रिपोर्ट भी जमा करवा सकते हैं।

जेटली की यात्रा एक ऐसे समय पर हुई है, जब आरएसएस नेतृत्व केरल में इस आधार पर राष्ट्रपति शासन की मांग कर रहा है कि वहां पिनारेई विजयन के नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार के तहत कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह बर्बाद हो चुकी है। जेटली उन भाजपा कार्यकर्ताओं के भी घर जा सकते हैं, जिनके मकानों पर हाल ही में कथित तौर पर माकपा ने हमले बोले थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here