सुप्रीम कोर्ट में राहुल गांधी की प्रतिक्रिया को लेकर अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी का पकड़ा गया झूठ

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार (22 अप्रैल) को कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में चल रही उन खबरों को खारिज कर दिया जिसमें दावा किया जा रहा है कि उन्होंने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में राफेल मामले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में दिए ‘चौकीदार चोर है’ वाले बयान पर माफी मांग ली है। दरअसल, कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में माफी मांगी है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष ने शीर्ष अदालत में खेद व्यक्त किया है। लेकिन अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी ने दावा किया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल को लेकर झूठ बोला। उन्होंने अपनी टिप्पणियों पर सुप्रीम कोर्ट में अपना झूठ स्वीकार कर लिया है। गोस्वामी के चैनल को राहुल गांधी की प्रतिक्रिया को फर्जी तरीके से तोड़ मोड़कर अपने दर्शकों के सामने पेश करने को लेकर निंदा का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल, अपनी प्रतिक्रिया में राहुल गांधी ने कहीं भी शीर्ष अदालत से यह नहीं कहा है कि उन्होंने राफेल सौदे पर अपनी टिप्पणियों के बारे में झूठ बोला था। उन्होंने एक बार ‘खेद/पछतावा’ शब्द का इस्तेमाल जरूर किया है, लेकिन गोस्वामी के चैनल ने सीधे सीधे यह दावा कर दिया कि राफेल मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष ने झूठ बोला था।

चैनल की एंकर का उसके स्वयं के कानूनी संवाददाता, नलिनी शर्मा ने लाइव टीवी पर विरोध किया कि गांधी ने सर्वोच्च न्यायालय से माफी नहीं मांगी है, केवल यह स्वीकार किया है कि उन्होंने राफेल सौदे पर झूठ बोला था। शर्मा ने जल्द ही इस तथ्य को नहीं बताया और बाद में एंकर द्वारा उसे अचानक काट दिया गया। (आप यहां क्लिक कर 3 मिनट 15 सेकंड के बाद वीडियो देख सकते हैं)

अर्नब गोस्वामी के चैनल की शर्मिंदगी अभी यहीं पूरी नहीं हुई, क्योंकि जल्द ही बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी फोन लाइन पर चैनल से जुड़ गईं। हताशा में चैनल की एंकर ने लेखी से पूछा कि क्या उन्हें लगता है कि सुप्रीम कोर्ट गांधी को सख्त चेतावनी जारी करेगा। रिपब्लिक एंकर ऐसे सवाल पूछ रही थी, जैसे कांग्रेस अध्यक्ष एक आदतन अपराधी हों। लेखी ने कहा कि वह अदालत के फैसले का इंतजार कर रही हैं, क्योंकि मामला अभी भी विचाराधीन है।

लेखी की प्रतिक्रिया से असंतुष्ट चैनल की एंकर ने एक और प्रयास करते हुए उनसे पूछा कि क्या अफसोस काफी है? क्या आप उनके जवाब से आश्वस्त हैं? संभवतः अति उत्साहित होकर लेखी ने जवाब देते हुए कहा कि मैं जज नहीं हूं। मामले में न्याय करने के लिए न्यायाधीश हैं। मैं इस हद तक संतुष्ट हूं कि उन्होंने कहा कि उन्होंने गलत बयान दिया। लेखी के जवाब से निराश होकर एंकर ने कुछ देर बाद अचानक उनकी लाइन काट दी।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बीजेपी पर कंटेंप्ट ऑफ कोर्ट का आरोप लगाया है। सुरजेवाला ने बीजेपी पर राहुल गांधी के सुप्रीम कोर्ट में दिए जवाब को गलत तरीके से पेश करने का आरोप लगाते हुए लिखा है कि झूठ की कोई सीमा नहीं, सुप्रीम कोर्ट में राहुल जी के जवाब को बीजेपी का गलत तरीके से पेश करना भी कोर्ट की अवमानना है। यह मामला विचाराधीन है। आज ही फैसला देना बंद करें। उन्होंने कहा कि हम फिर दोहराते हैं कि, “एक ही चौकीदार चोर है!”

कांग्रेस अध्यक्ष ने भी साफ कर दिया है कि उन्होंने माफी नहीं मांगी है। सोमवार को रायबरेली में जब पत्रकारों ने राहुल गांधी से पूछा कि ऐसी खबरें हैं कि आपने माफी मांगी है? इस पर राहुल गांधी ने कहा कि नहीं…नहीं… मैंने माफी नहीं मांगी है। उन्होंने आगे कहा कि फिलहाल यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है, इसलिए मैं इस पर ज्यादा टिप्पणी नहीं करूंगा। पत्रकारों से बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने एक बार फिर अनिल अंबानी और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए वहां मौजूद लोगों से ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगवाए।

देखिए, अन्य मीडिया संस्थानों ने अपनी वेबसाइट्स पर क्या दिया है हेडलाइन:

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here