VIDEO: अर्नब गोस्वामी के सहयोगी प्रदीप भंडारी और साथी पत्रकारों के बीच हाथापाई, दीपिका पादुकोण और सारा अली खान के खिलाफ ड्रग्स जांच में खतरनाक मोड़

3

बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और रकुल प्रीत सिंह के खिलाफ ड्रग्स जांच में खतरनाक मोड़ सामने आया है। अर्नब गोस्वामी के अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के रिपोर्टर प्रदीप भंडारी पर गुरुवार को मुंबई में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) कार्यालय के बाहर साथी पत्रकारों द्वारा शारीरिक हमला किया गया। इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

अर्नब गोस्वामी

अर्नब गोस्वामी के सहयोगी प्रदीप भंडारी ने एनडीटीवी और एबीपी न्यूज चैनल्स के पत्रकारों द्वारा उन्हें पीटे जाने का आरोप लगाया है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में दिखाई दे रहा है कि प्रदीप भंडारी को एक अन्य चैनल के पत्रकार ने धक्का दिया। जिस वक्त यह घटना घटी उस वक्त मौके पर मुंबई पुलिस के जवान भी मौजूद थे। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि, मुंबई पुलिस के जवान पत्रकारों के बीच चल रही इस हाथापाई को शांत करने का प्रयास कर रहे थे।

घटना से जुड़ा वीडियो शेयर करते हुए प्रदीप भंडारी ने अपने ट्वीट में लिखा, “जानते है महाराष्ट्र में सच बोलने की क़ीमत क्या है? कार्टेल के नामी-गिरामी चेहरे जैसे-जैसे एक्सपोज़ हो रहे है, उनका ग़ुस्सा और बढ़ता जा रहा है।जब पुलिस से भी काम नहीं बना तो आज NDTV और ABP के गुंडे पत्रकारों को मेरे पास हाथपाई करने भेज दिया। लेकिन मैं टूटने वालों में से नहीं हूँ।”

बता दें कि, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में जुड़े ड्रग्‍स के एंगल को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को पूछताछ के लिए समन भेजा है। पूछताछ के लिए दीपिका पादुकोण को 25 सितंबर को बुलाया गया है जबकि श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को 26 सितंबर को बुलाया गया है।

बता दें कि, सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच का दायरा बढ़ने और इसमें ड्रग्‍स का एंगल जुड़ने के बाद बॉलीवुड के कई बड़े नाम इस मामले में सामने आए हैं। सुशांत को 14 जून को उनके मुंबई स्थित आवास में मृत पाय गया था।

3 COMMENTS

  1. Bala Saheb must be crying now seeing the vendetta unleashed by its goons. Bap,beta aur Buddha ka power ki Nasha jaise ki bap ka Jager..

  2. It is shame to see reporters fighting among themselves.they should not behave like local gunda.truth must come out on media and reporters should stand with truth

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here