“302 ‘तक’ वालों के लिए सबसे बड़ा तमाचा होगा”: सुशांत सिंह राजपूत केस में रिया चक्रवर्ती को मंच देने के लिए अर्नब गोस्वामी ने अपने पूर्व बॉस राजदीप सरदेसाई पर साधा निशाना

0
5
सुशांत सिंह राजपूत

अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के विवादास्पद एंकर और संस्थापक अर्नब गोस्वामी ने दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व प्रेमिका रिया चक्रवर्ती का इंटरव्यू लेने पर एक बार फिर से अपने पूर्व बॉस राजदीप सरदेसाई पर निशाना साधा हैं। रिपब्लिक टीवी के संस्थापक ने कहा कि, सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में 302 केस के तहत जांच होना चाहिए। इसके साथ ही गोस्वामी ने समाचार चैनल ‘आजतक’ पर रिया चक्रवर्ती के इंटरव्यू को लेकर कहा कि, उन्होंने चक्रवर्ती को बचाने के लिए एक कैंपन चलाया था। ‘आजतक’ का बिना नाम लेते हुए अर्नब गोस्वामी ने कहा, “302 ‘तक’ वालों के लिए सबसे बड़ा तमाचा होगा।”

सुशांत सिंह राजपूत

अर्नब गोस्वामी ने अपने कार्यक्रम ‘पूछता है भारत’ में दावा किया कि, “जब तक इस मामले (सुशांत सिंह राजपूत केस) में 302 का केस नहीं लगेगा, तब तक हम सुशांत सिंह राजपूत को इंसाफ दिलानें की मुहिम को छोड़ने वाले नहीं है।” गोस्वामी ने दावा किया कि मुझे ख़बर मिली है कि, “सिद्धार्थ पिठानी, केशव, नीरज समेत रिया चक्रवर्ती यह सब मिलकर एक योजना बना रहे है कि किसी भी तरिके से इस छोटे-मोटे केस से निकल जाएं। लेकिन, मैं उन्हें तब तक नहीं छोडूंगा जब तक इस मामले में 302 का केस नहीं दर्ज हो जाता है और इसकी पूरी जांच नहीं हो जाती।”

गोस्वामी ने अपने कार्यक्रम में कहा कि, “जब हमने कहा था कि सुशांत की टांग टूटी थी, सुशांत के गले पर सुई के निशाने थे और जब हमने कहा था कि इस सबके बारे में रिया जानती थी तब इन्ही ‘तक’ वालों ने उल्टा रिया चक्रवर्ती को मंच दिया। और तक वालों ने उसके लिए Justice for Riya का कैंपन भी चलाया था।”

गोस्वामी ने आगे कहा, “मेरे लिए पत्रकारिता एक ऐसी मुहिम है, जिसमें मैं चाहता हू कि हर अपराधी को एक ऐसा तमाचा लगे जिससे समाज को एक सीख मिले। इसलिए रिया चक्रवर्ती और संदिप को मंच देने वाले सुन लो 302 इन सबके लिए, इन ‘तक’ वालों के लिए सबसे बड़ा तमाचा होगा। हम उन तक वालों को नहीं छोड़ेंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here