IPL 2021 में मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाले मुंबई इंडियंस के लिए खेल सकते हैं अर्जुन तेंदुलकर? भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने के लिए यूजर्स के निशाने पर आए सचिन तेंदुलकर

0

‘क्रिकेट के भगवान’ के नाम से मशहूर टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज सलामी बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के बेटे सचिन तेंदुलकर ने इंडियन प्रीमियर लीग की 18 फरवरी को होने वाली खिलाड़ियों की नीलामी के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है।अर्जुन के आईपीएल नीलामी के लिए रजिस्ट्रेशन की खबर सुनते ही सोशल मीडिया यूजर्स कयास लगे है कि उन्हें कौन सी टीम चुन सकती है। अधिकतर लोगों का मानना है कि अर्जुन भी अपने पिता की तरह मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाले मुंबई इंडियंस की ओर से खेल सकते हैं। इस ख़बर के सामने आते ही सचिन तेंदुलकर एक बार फिर से सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए, लोग भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने का आरोप लगा उन्हें जमकर ट्रोल कर रहे हैं।

गौरतलब है कि, इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की 18 फरवरी को होने वाली नीलामी के लिए 1097 खिलाड़ियों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है। इसमें दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर भी शामिल है। बीसीसीआई के मुताबिक, कुल 814 भारतीय और 283 विदेशी खिलाड़ियों ने निलामी के लिए अपना नाम दिया है।

एक अंग्रेजी वेबसाइट के मुताबिक, अर्जुन तेंदुलकर ने 18 फरवरी को होने वाली आईपीएल नीलामी के लिए अपना रजिस्ट्रेशन कराया है। उन्होंने बेस प्राइस 20 लाख रुपये तय की है। अर्जुन तेंदुलकर आईपीएल की चैंपियन मुंबई इंडियंस के नेट बॉलर रहे हैं।

अर्जुन तेंदुलकर ने अपने पूरे करियर में सिर्फ दो टी 20 मैच खेले हैं। वो इस साल मुंबई की ओर से सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी खेल चुके हैं। 15 जनवरी को मुंबई और हरियाणा के बीच अपने पहले मैच में सचिन तेंदुलकर के बेटे ने 0 रन बनाए और तीन ओवर में 34 रन देकर एक विकेट लिया। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज अर्जुन का दूसरा और आखिरी आउट पुडुचेरी के खिलाफ था जब उन्होंने सिर्फ तीन रन बनाए और चार ओवर में 33 रन देकर एक विकेट लिया। मुंबई दोनों मैच हार गई।

प्रशंसकों ने आईपीएल नीलामी के लिए उनके पंजीकरण पर सवाल उठाना शुरू कर दिया है। इसके साथ ही यूजर्स ने भाई-भतीजावाद को बढ़ावा देने का आरोप लगा सचिन तेंदुलकर को ट्रोल करना शुरु कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here