राजस्थान: अकबर खान की हत्या पर केंद्रीय मंत्री बोले- ‘मोदी जी जितने लोकप्रिय होंगे, ऐसी घटनाएं उतनी ही बढ़ेंगी’

0

राजस्थान के अलवर जिले में संदिग्ध गोरक्षकों ने 28 वर्षीय एक मुस्लिम शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस ने शनिवार (21 जुलाई) को इसकी जानकारी दी। शुक्रवार (20 जुलाई) रात हुई इस घटना में कुछ ग्रामीणों ने अकबर खान नाम के व्यक्ति की गो तस्कर होने के संदेह में पकड़कर उसकी बेरहमी से पिटाई की, जिससे उसकी मौत हो गई। पुलिस अधिकारी ने कहा कि ग्रामीणों ने अकबर खान और उसके साथी की बेरहमी से पिटाई की। उन्होंने कहा कि खान के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

(PTI File Photo)

रामगढ़ थाना के इंचार्ज सुभाष शर्मा के मुताबिक मृतक की पहचान हरियाणा के कोलागांव निवासी अकबर खान (28) के रूप में की गई है। खान जब अपने एक साथी के साथ दो गाय लेकर अपने गांव जा रहा था, जब वह लालावंडी गांव से होकर गुजर रहा था, तभी अज्ञात लोगों के एक समूह ने गो तस्कर होने के संदेह में उनकी बुरी तरह से पिटाई कर दी। मृतक का साथी भीड़ के हमले से खुद को बचाकर किसी तरह से भाग निकला। खान को रामगढ़ के सरकारी अस्पताल में ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस घटना की निंदा की। राजे ने ट्वीट कर कहा, अलवर जिले में गोजातीय को ले जा रहे शख्स की कथित रूप से पीट-पीटकर की गई हत्या निंदनीय है। अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाए जाएंगे।वसुंधरा ने ट्वीट कर कहा, “अलवर में गो परिवहन से संबंधित वारदात में हुई नृशंस हत्या की मैं कड़े शब्दों में निंदा करती हूं। पुलिस मामला दर्ज कर दो संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ कर रही है। मैंने गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया जी को जल्द से जल्द मामले की छानबीन कर दोषियों को कड़ी सज़ा दिलाने के निर्देश दिए हैं।”

केंद्रीय मंत्री का अजीबोगरीब बयान

इस मामले पर केंद्रीय मंत्री और राजस्थान बीजेपी के बड़े नेता अर्जुन राम मेघवाल ने भी प्रतिक्रिया देते हुए हिंसा की निंदा की है, लेकिन साथ ही उन्होंने एक अजीबोगरीब बयान दिया है, जिसको लेकर विपक्ष सवाल उठा सकता है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि मोदी जी जितना मशहूर होंगे, मॉब लिंचिंग की घटनाएं उतनी ही बढ़ेगी। अर्जुन राम मेघवाल ने कहा कि आपको इतिहास खोजना पड़ेगा कि ऐसी घटनाएं क्यों हो रही है।

केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘वह इस घटना की निंदा करते हैं लेकिन यह सिर्फ अकेली घटना नहीं है। हमें इसके इतिहास में जाना होगा। यह क्यों हो रहा है? कौन इसे रोकेगा? 1984 का सिख दंगा इतिहास की सबसे बड़ी ‘मॉब लिंचिग’ थी।’ मेघवाल ने आगे कहा, ‘जैसे-जैसे मोदी जी लोकप्रिय होते जाएंगे ऐसी घटनाएं बढ़ेंगी। बिहार में चुनाव के समय ‘अवार्ड वापसी’, यूपी चुनाव में ‘मॉब लिचिंग’ और 2019 में कुछ और होगा। मोदी जी ने योजनाएं दी और उसका असर दिख रहा है। ये उसका एक रिएक्शन है।’

हरियाणा के कोलागांव के रहने वाले युवक अकबर खान की हत्या के बाद पिता सुलेमान ने बेटे की हत्या के मामले में न्याय की मांग की है। बुजुर्ग पिता ने कहा, ”उन्हें इंसाफ चाहिए।”

इस मामले पर जयपुर रेंज के आईजी ने कहा, ”दो संदिग्धों को घटनास्थल से पुलिस स्टेशन लाया गया और बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके बाद हमने उनकी संलिप्तता पाई है। जांच की जा रही है अन्य षड़यंत्रकारियों को पाने के लिए. बॉडी का पोस्टमार्टम किया जा रहा है।”

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने इस घटना को मोदी के चार साल का लिंच राज बताया है। ओवैसी ने ट्वीट कर लिखा है, ‘भारत में गाय को संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत जीने का अधिकार है और एक मुस्लिम को मारा जा सकता है, क्योंकि उनके ‘जीने’ का मौलिक अधिकार नहीं है। मोदी शासन के 4 साल- लिंच राज।’

बता दें कि अलवर में गोरक्षा के नाम पर पहले भी कई घटनाएं हो चुकी हैं। पिछले साल अप्रैल में कुछ गोरक्षकों ने पहलू खान की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here