….जब एआर रहमान ने अमेरिकी आयोजकों से बोले- “भारतीयों को विभाजित मत करो”

0

ऑस्कर और ग्रैमी जैसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड से सम्मानित मशहूर संगीतकार ए आर रहमान दक्षिणपंथी संगठनों द्वारा समय-समय पर भारतीय मुसलमानों को बदनाम करने के लिए चलाए जा रहे झूठे एजेंडों पर अपनी प्रतिक्रिया देते रहते हैं। वैसे तो रहमान कभी किसी मुद्दे पर बोलते नहीं है, लेकिन वह उन मुद्दों पर कभी चुप्पी नहीं साधते जिससे भारतीय संस्कृति और विविधता पर चोट पहुंचती हो।

Photo: AR Rahman’s Facebook page

रहमान एक ऐसे संगीतकार हैं जो अच्छी तरह से जानते हैं कि भारतीय संस्कृति की पहचान विविधता में एकता है। यही वजह है कि पिछले साल हिंदुत्ववादी राजनीति के खिलाफ खुलकर विचार जाहिर करने वाली वरिष्ट पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर रहमान ने कड़ी निंदा की थी। रहमान ने कहा था कि वरिष्ठ पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ताओं की इस निर्ममता से हत्याएं की जाएंगी तो ये मेरा भारत नहीं हो सकता है।

‘जनता का रिपोर्टर’ के संस्थापक रिफत जावेद से बातचीत के दौरान (रिफत जब बीबीसी में थे) रहमान ने दिल खोलकर बातचीत की थी और उन्होंने बताया था कि वह भारत से कितना प्यार करते हैं। भारत में क्रांतिकारी संगीत के साथ श्रेय देने वाले एआर रहमान फिलहाल अपने अगले कार्यक्रम के लिए अमेरिकी दौरे पर हैं।

उन्होंने शुक्रवार सुबह अमेरिकी आयोजकों में से एक के साथ अपनी बातचीत का एक वीडियो शेयर किया। हालांकि अब उस वीडियो को अब हटा दिया गया है, जिसमें रहमान ने एक महिला आयोजक के साथ अपने कार्यक्रम की तैयारी को  चर्चा हुई थी।

शुक्रवार रात के संगीत कार्यक्रम को लेकर दर्शकों के जवाब के बारे में पूछे जाने पर एक महिला ने जवाब दिया कि वे ’50 -50 ‘थे। इस पर रहमान ने पूछा, “50-50?” महिला ने समझाया कि 50-50 तक। दरअसल उस महिला का मतलब था कि 50 प्रतिशत उत्तर भारतीय थे और 50 फीसदी दक्षिण भारतीय।

महिला के जवाब से रहमान नाराज हो गए और उन्होंने उस महिला को समझाने के कोशिश की कि वह अपने भौगोलिक स्थानों के साथ भारतीयों को विभाजित नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि वे अमेरिका में अपने लोगों के लिए ऐसा नहीं कर सकते। उन्हें विभाजित मत करो (भारतीय)। यह सिर्फ भारतीय है।

बता दें कि अभी पिछले महीने ही केरल में आई भयावह बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए एआर रहमान आगे आए थे। ए.आर. रहमान ने इन बाढ़ पीड़ितों के लिए केरल के मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष में 1 करोड़ रुपए की राशि दान की थी।

उन्होंने एक तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी, जिसमें वह अपनी पूरी टीम के साथ एक बड़े से चेक के साथ नजर आ रहे था। उन्होंने ट्वीट कर लिखा था, ‘केरल के अपने भाई-बहनों के लिए मैं और मेरे आर्टिस्ट साथी अमेरिका पहुंचे! उम्मीद है कि इस छोटी सी मदद से आपको कुछ राहत मिले।’

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here