AAP विधायक अलका लांबा ने कहा- बच्चों की मौत पर हिमालय जाकर माला जपकर पश्चाताप करें CM योगी

1

उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव के लिये नामांकन प्रक्रिया शुरु हो चुकी है, जिसके प्रचार के लिए नेता मतदाओं को रिझा रहे हैं। इसी बीच राजधानी दिल्ली की चांदनी विधानसभा सीट से आम आदमी पार्टी (AAP) की विधायक व पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा ने मंगलवार(21 नवंबर) को उत्तर प्रदेश के भदोई नगर पालिका चेयरमैन प्रत्याशी के समर्थन में एक जनसभा को संबोधित किया।

अलका लांबा
आप विधायक अलका लांबा

यहां पर अलका लांबा ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा कि योगी को गोरखपुर मेडिकल कालेज में बच्चों की मौत पर हिमालय जाकर पश्चाताप करना चाहिए। न्यूज़ एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, अलका ने यहां नगर निकाय चुनावों में आप प्रत्याशियों के समर्थन में जनसभा के बाद संवाददाताओं से कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात मॉडल लेकर आये तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर के बी.आर.डी. मेडिकल कालेज में ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत का मॉडल लेकर आये हैं।

योगी आदित्यनाथ को हिमालय पर बैठ कर माला जपना चाहिए। उन्होंने कहा, योगी आदित्यनाथ को हिमालय पर बैठ कर गोरखपुर में हो रही बच्चों की मौत पर माला जपकर पश्चाताप करना चाहिए। इस प्रदेश का मुख्यमंत्री अपने क्षेत्र (गोरखपुर) में शासन प्रशासन को ठीक नहीं रख सकता। वहॉं सिर्फ ऑक्सीजन की कमी के चलते इतने बच्चों की मौत हो गई।

अलका ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस मुक्त भारत की बात कहती थी पर भाजपा के अध्यक्ष (अमित शाह) ने कांग्रेस के सारे भ्रष्टाचारियों को भाजपा में शामिल कर कांग्रेस युक्त भाजपा बना लिया है। उन्होंने कहा कि केन्द्र में मोदी सरकार का गुजरात मॉडल विफल हो चुका है और 2019 के चुनाव में केन्द्र में सत्ता परिवर्तन तय है लेकिन दिल्ली में फिर आप की सरकार बनेगी।

सवालों के जवाब में अलका ने कहा कि अगर राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें शुभकामना है। वहीं ‘पद्मावती’ फिल्म को लेकर चल रहे विवाद के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने दावा किया कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ के बीच इस फिल्म को लेकर ठन गई है।

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रानी पद्मावती को राष्ट्रमाता कहते हैं तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री गौमाता को राष्ट्रमाता बनाना चाह रहे है। अलका ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस विवाद में नहीं है। इसके लिए सेंसर बोर्ड बना है।

उन्होंने कहा कि वह यहां वोट मांगने नहीं आई हैं बल्कि उत्तर प्रदेश की जनता को दिल्ली बुलाने आई हैं, जहां ‘आप सरकार’ सस्ती बिजली, मोहल्ला क्लीनिक और हर घर में मुफ्त पानी दे रही है।

बता दें कि, यूपी के बिजनौर जिले में मंगलवार (31 अक्टूबर) को आप विधायक अलका लांबा पर एक जनसभा के बाद पत्थर फेंका गया था, जिससे उनके सिर में चोट आयी है। उस समय वो यूपी में होने वाले आगामी निकाय चुनाव में प्रचार करने गई हुई थीं। जिसके बाद अलका लांबा ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा था।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा था कि, ‘UP में कानून व्यवस्था नदारद, राशीद भाई की चुनावी जनसभा से बौखलाई BJP-SP-BSP, मुझे पत्थर फेंक मारा’

1 COMMENT

  1. Yogi ko comment karte samay ye dyan rakhana beta ki aap hum hinduo ko gali na de dijiye ga. Ye usi tarah ka comment hai jaise hum aap ko kisi shok ke liye gb rod dikhaye

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here